जय शाह को ‘सरकारी कानूनी मदद’ मिलने पर राहुल गांधी का तंज, कहा- ‘व्हाइ दिस कोलावेरी डा?’

जय शाह को ‘सरकारी कानूनी मदद’ मिलने पर राहुल गांधी का तंज, कहा- ‘व्हाइ दिस कोलावेरी डा?’राहुल गांधी, कांग्रेस उपाध्यक्ष

नई दिल्ली (आईएएनएस)। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने विवाद में फंसे 'अमित शाह के बेटे जय शाह को एक समाचार पोर्टल से लड़ाई में 'सरकारी कानूनी मदद' दिए जाने को लेकर भाजपा पर तंज कसा। राहुल ने एक तमिल फिल्म के गाने 'कोलावेरी डी' के बोल को थोड़ा बदलते हुए ट्वीट किया, "शाह-जादा को सरकारी कानूनी मदद! व्हाइ दिस, व्हाइ दिस कोलावेरी डा?"

तमिल फिल्म 'थ्री' का गीत 'व्हाइ दिस, व्हाइ दिस कोलावेरी डी' तमिल और अंग्रेजी का मिश्रण है, जिसे अनिरुद्ध रविचंद्रन ने लिखा है और इस धनुष ने गाया है। इसका अर्थ है- ऐ लड़की, मुझ पर यह कातिल गुस्सा क्यों?

राहुल ने इस ट्वीट के जरिए जय शाह का मुद्दा उठाए जाने पर भाजपा के गुस्से को रेखांकित किया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने इस ट्वीट के साथ वेब पोर्टल 'द वायर' की ओर से प्रेस को जारी एक बयान को संलग्न किया, जिसका शीर्षक है- 'जय अमित शाह का द वायर का मुंह बंद करने प्रयास'।

राहुल ने भाजपा पर यह हमला ठीक इसी दिन बोला है, जब भाजपा ने कांग्रेस से पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा और हथियारों के सौदागर संजय भंडारी के बीच संबंध पर स्पष्टीकरण मांगा।

कांग्रेस इससे पहले यह मुद्दा उठा चुकी है कि जय शाह की कंपनी का करोबार एक साल में 50,000 रुपये से बढ़कर 80 करोड़ रुपये तक कैसे पहुंच गया। पार्टी इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री की चुप्पी पर भी सवाल उठा चुकी है और सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों से इस मामले की जांच की मांग कर चुकी है।

भाजपा ने आरोप को खारिज किया है और कहा है कि जय शाह का कारोबार पूरी तरह वैध है। पार्टी ने कांग्रेस के इस आरोप को भी खारिज किया है कि भाजपा घोर पूंजीवाद को बढ़ावा दे रही है।

ये भी पढ़ें :- राहुल गांधी शीघ्र बनेंगे कांग्रेस अध्यक्ष : सोनिया गांधी

गुजरात में योगी का वार, बोले- जहां राहुल जाते हैं कांग्रेस हार जाती है

सरकारी जमीन नहीं ली है और न ही बोफोर्स की तरह दलाली खाई है - अमित शाह

Share it
Top