'प्रियंका में दिखती है इंदिरा की झलक'

लखनऊ के मेगा रोड शो में गाँवों से आई महिलाएं और बुजुर्ग प्रियंका की झलक के लिए पहुंचे थे। इस रोड शो में दिखी कांग्रेसियों को संजीवनी

लखनऊ। रायबरेली के बछरावां से आईं सुमन को प्रियंका में इंदिरा गांधी की झलक देखती हैं। "प्रियंका अपनी दादी की तरह हैं, उनकी भाषा और सोच है, जैसे इंदिरा गांधी कर रही थीं, उसी तरह प्रियंका गांधी का भी दिमाग है।"

सुमन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के लखनऊ रोड शो में शामिल होने के लिए आईं थी। सुमन ने कहा, "राहुल को नहीं पहचानती, लेकिन प्रियंका गांधी से मिल चुकी हूं। हम उनकी रैली में हमेशा जाते हैं। प्रियंका गांधी के आने से अच्छा लग रहा है, मेहनत करके जिताएंगे हम लोग।"

लोकसभा चुनावों से पहले उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कांग्रेस के इस रोड शो ने कार्यकर्ताओं में तेजी ला दी है। प्रियंका गांधी के सक्रिय राजनीति में आने के बाद से जहां दूसरी पार्टी के नेता चौकन्ने हैं, वहीं खुद कांग्रेस को करिश्मे की आस है।

लखनऊ की सड़कों पर 15 किमी के कांग्रेस के इस मेगा रोड शो दौरान रायबरेली और अमेठी समेत कई और जिलों से सैकड़ों की तादाद में महिलाएं और बुजुर्ग पहुंचे थे।

प्रियंका और राहुल का रोड शो जैसे ही एयरपोर्ट से कानपुर रोड पर पहुंचा प्रियंका की एक झलक पाने के लिए भगदड़ मच गई, और लोग भागते नजर आए।



इससे पहले प्रियंका गांधी लोकसभा और विधानसभा के चुनावों के प्रचार में अमेठी और रायबरेली तक ही खुद को सीमित रखती थीं। इस लिहाज से रायबरेली और अमेठी के लोग प्रियंका गांधी को अधिक अच्छे से जानते हैं।

वहीं राहुल, प्रियंका और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ही राज बब्बर, जितिन प्रसाद, आरपीएन सिंह, प्रमोद तिवारी समेत अन्य केन्द्रीय व राज्य के कांग्रेस नेता इस रोड शो के सारथी थे।

रोड शो में राफेल का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी ने कहा, "कांग्रेस कहीं भी बैकफुट पर नहीं खेलेगी।" राहुल के साथ-साथ कांग्रेसी कार्यकर्ता भी 'चौकीदार चोर है' के नारे लगाते रहे। मतलब आम कांग्रेसी भी राफेल पर सवाल पूछता दिखा।

मोहनलालगंज से आए अमरीश को पूरा भरोसा था कि इस बार कांग्रेस सत्ता में आ रही है। "हमारी सरकार बनेगी। मोदी जी ने मदारी की तरह खेल दिखाया, कोई अपना वादा पूरा नहीं किया, जब चुनाव आ गए तो फिर बोलना शुरू," अमरीश अपनी बाइक पर बैठे-बैठे कहा।

एयरपोर्ट से कांग्रेस पार्टी के दफ्तर तक पूरा रास्ता पोस्टर, बैनर से पटा पड़ा था, सिर पर कांग्रेस समर्थन की पट्टी बांधे कार्यकर्ता लगातार तिरंगा लहराते हुए नारेबाजी करते रहे।

शाम को करीब 5.30 बजे रोड शो खत्म होने के बाद राहुल गांधी ने अपने संबोधन में कहा, "उत्तर प्रदेश नें पांच साल देख लिया है कि नरेंद्र मोदी ने कुर्सी पर बैठकर क्या किया है? यह देखिए युवा ताली बजा रहे हैं और कह रहे हैं कि चौकीदार ने हम में से एक को नौकरी नहीं दी। वादा किया था दो करोड़ बेरोजगारों को रोजगार देने का। मोदी ने सिर्फ आम अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया है।"


Share it
Top