रेल आरक्षण केन्द्रों को बंद करने का कोई विचार नहीं : सरकार

रेल आरक्षण केन्द्रों को बंद करने का कोई विचार नहीं : सरकारसाभार:  इंटरनेट।

रेल मंत्रालय ने शुक्रवार को इस बात से साफ इनकार किया कि रेल टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग बढ़ने के कारण आरक्षण केंद्रों को बंद करने पर विचार किया जा रहा है। रेल राज्य मंत्री राजेन गोहेन ने ए. विजय कुमार के एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी।

सरकार रेल टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग की संख्या के बढ़ने रहने के कारण आरक्षण केंद्रों को बंद करने का विचार रखती है। इसके जवाब में गोहेन ने कहा, 'इस समय ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है।’ उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में फरवरी, 2018 तक के दौरान आरक्षण केंद्रों से 11,62,55,931 टिकट बुक किए गए, जबकि 2016-17 में यह संख्या 14,03,30,264 थी।

ये भी पढ़ें- भारतीय रेल: अब आप अपना कंफर्म टिकट दूसरे को कर सकते हैं ट्रांसफर, ये है तरीका

उन्होंने बताया कि अभी देशभर में कुल 3458 आरक्षण केंद्र काम कर रहे हैं। गौरतलब है कि पिछले कुछ वक्त से यह खबर आ रही थी कि ऑनलाइन बुकिंग में भारी बढ़त की वजह से रेलवे अपने आरक्षण केंद्रों को बंद करने या उनकी संख्या कम करने के बारे में सोच रहा है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Tags:    Indian Railways 
Share it
Top