Top

अब एयरलाइंस और होटलों की तरह रेल किराये में भी मिलेगी छूट

Mohit AsthanaMohit Asthana   17 Dec 2017 9:11 AM GMT

अब एयरलाइंस और होटलों की तरह रेल किराये में भी मिलेगी छूटसाभार: इंटरनेट।

रेल से सफर करने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। रेलमंत्री पीयुष गोयल ने टिकट किराए में छूट देने की बात कही है। रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि एयरलाइंस और होटल्स की तरह अब ट्रेनों के किराए में भी छूट मिल सकती है। अब रेलवे भी आपको सफर के लिए तरह-तरह के ऑफर्स दे सकता है, जिसके आकर्षित होकर आप ट्रेन में सफर करने के लिए प्रेरित हो सकेंगे।

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने एक महत्वपूर्ण बैठक के बाद इसकी जानकारी दी। इस फैसले के लिए रेलवे ने एक बोर्ड बनाई थी, जिसने फ्लेक्सी फेयर सिस्टम की समीक्षा की और रेलमंत्री के सामने अपनी रिपोर्ट सौंपी। इस रिपोर्ट के बाद ही रेलव ने फ्लैक्सी फेयर सिस्टम में बदलाव करने का फैसला किया।

ये भी पढ़ें- कभी सोचा है आपने? ट्रेन के हर हॉर्न का अलग मतलब होता है जनाब...

रेलमंत्री ने कहा कि बोर्ड ने अपनी राय रखी, जिसके बाद हम एयरलाइंस और होटल्स की तरह डाइनैमिक प्राइसिंग पर विचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह एयरलाइंस और होटलों में बुकिंग कम होने पर किराए में छूट दी जाती है। उसी तरह से मैं भी चाहता हूं कि ट्रेनों में सीटें खाली होने की स्थिति में रेल टिकटों के किराए में छूट दी जाए।

ये भी पढ़ें-
क्या आप जानते हैं स्टेशनों के नाम के अंत में क्यों लिखा होता है जंक्शन, टर्मिनल और सेन्ट्रल ?

उन्होंने रेलवे में किराए में छूट को लेकर पहल के साथ-साथ साफ सफाई को लेकर भी चर्चा की। रेलवे संपत्तियों के भरपूर इस्तेमाल को लेकर विचार कर रहा है। उन्होंने कहा कि जैसे एयरलाइंस में 30 मिनट में मेंटिनेंस कर विमान को दूसरे सफर के लिए तैयार कर लिया जाता है वैसे ही रेलवे भी अपने ट्रेनों की सफाई के लिए रेक्स का पूरा इस्तेमाल करेगा। नए साल में रेलवे इन सब संसाधनों के इस्तेमाल पर पूरा ध्यान देगा।

ये भी पढ़ें- क्या आप जानते हैं, स्टेशन से पहले आउटर पर क्यों रोकी जाती हैं ट्रेनें ?

महिलाओं की सुरक्षा पर भी विशेष ध्यान

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि वर्ष 2018 रेल यात्रियों विशेषकर महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए समर्पित होगा। इसके लिए सभी यात्री ट्रेनों और 1,000 रेलवे स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। जिससे हर समय उनकी निगरानी संभव हो सकेगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.