पंजाब और हरियाणा में बारिश से तापमान गिरा , गेहूं की फसल को फायदा

पंजाब और हरियाणा में बारिश से तापमान गिरा , गेहूं की फसल को फायदाबारिश से न्यूनतम तापमान में गिरावट। फोटो प्रतीकत्मक।

चंडीगढ़/नई दिल्ली। भारत के कई राज्यों में मौमस ने करवट ली है। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और यूपी में बारिश के साथ ओलावृष्टि से जहां किसानों के चेहरे मुझरा गए हैं। वहीं पंजाब और हरियाणा में इस बारिश से किसानों को बड़ी राहत मिली है। तापमान में गिरावट का असर गेहूं समेत कई फसलों पर अच्छा पड़ेगा।

हरियाणा और पंजाब में काफी समय से तामपान बढ़ता जा रहा है। फरवरी में भी मौसम शुष्क बना हुआ था, जिसके बार सोमवार को हुई बारिश से कुछ राहत मिली है। दोनों राज्यों के न्यूनतम तापमान में कुछ वृद्धि दर्ज की गई है।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि चंडीगढ़, अंबाला, हिसार, करनाल, रोहतक, अमृतसर, लुधियाना, पटियाला, पठानकोट और भठिंडा सहित कई जगहों पर बारिश हुई है। बारिश में किसानों के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी है, क्योंकि माना जा रहा है कि इस समय का बारिश गेहूं और अन्य फसलों के लिए लाभप्रद है। अधिकतर स्थानों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से दो-पांच डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया है। चंडीगढ़ का न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस अधिक 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हरियाणा में अंबाला में न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रहा।

उत्तर प्रदेश में काशी हिंदू विश्वविद्यालय में कृषि विज्ञान संस्थान के प्रमुख प्रो. अविजित सेन ने गांव कनेक्शन को फोन पर बताया कि अगर हल्की और रुक-रुक कर बारिश होती है तो फसलों के लिए लाभदायक है, क्योंकि गेहूं में दाना बन रहा है ऐसे में तापमान कम रहने से दाना मोटा हो सकता है। लेकिन तेज बारिश और ओलावृष्ठि से नुकसान होगा।"

ये भी पढ़ें- मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और यूपी के कई इलाकों में ओलावृष्टि, अगले दो दिन हो सकती है बारिश

वहीं मध्य प्रदेश में ओले गिरने चौपट फसल देख कई किसान सदमे में हैं।

दिल्ली पर छाए काले बादलों से ट्रेनों की रफ्तार थमी

दिल्ली के आसमान पर छाए बादलों और खराब दृष्यता के चलते उत्तर भारत से आने वाले एक दर्जन से ज्यादा ट्रेने अपने समय से काफी लेट चल रही हैं। मौसम विभाग ने सोमवार और मंगलवार को बारिश की संभावना जताई है।

बर्फबारी से जम्म-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद

जम्मू/श्रीनगर।(भाषा) जम्मू-कश्मीर में ताजा बर्फबारी के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को फिलहाल बंद कर दिया गया है। इससे श्रीनगर का देश के बाकी हिस्सों से संपर्क टूट गया है। यातायात अधिकारियों के मुताबिक जम्मू और काजीगुंद में नगरोटा जांच चौकी पर वाहनों को रोक दिया गया है। घाटी का तापमान गुलमर्ग को छोड़कर सभी जगह न्यूनतम तापमान तमाव बिंदु के करीब है। उत्तर कश्मीर का न्यूनतम तापमान शून्य 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्द किया गया है। लद्गाख क्षेत्र में कारगिल राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा।

Share it
Top