पाकिस्तानी मूल की कमर मोहसिन पीएम मोदी को 36 वर्षों से बांध रही हैं राखी

पाकिस्तानी मूल की कमर मोहसिन पीएम मोदी को 36 वर्षों से बांध रही हैं राखीकमर मोहसिन शेख।

लखनऊ। हमेशा की तरह इस बार भी पाकिस्तान मूल की कमर मोहसिन शेख प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को राखी बांधेंगी। कमर पिछले 21 साल से नरेन्द्र मोदी को राखी बांधती आ रही है। पाकिस्तान के कराची की रहने वाली कमर पहली बार 1981 में भारत आई थीं। यहां उनका निकाह अहमदाबाद के मशहूर चित्रकार मोहसिन के साथ हुआ था।

ये भी पढ़ें- पुंछ की महिलाओं ने LoC पर तैनात सेना के जवानों को बांधी राखी

तब से वो हिन्दुस्तानी हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 1995 में कमर की मुलाकात गुजरात के उस वक्त के गवर्नर डॉ. स्वरूप सिंह से हुई थी। सिंह कमर को अपनी बेटी मानने लगे थे। एक बार जब कमर पाकिस्तान जा रही थीं तो राज्यपाल उन्हें उस वक्त के बीजेपी के प्रदेश महामंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एयरपोर्ट तक छोड़ने गए थे। कमर को विदा करते वक्त स्वरूप सिंह ने मोदी से कहा कि यह मेरी बेटी है। इसका ख्याल रखना। तभी मोदी ने उनसे कहा कि अगर ये आपकी बेटी है तो मेरी बहन हुई। इसके बाद 1996 से कमर ने मोदी को हर रक्षाबंधन पर राखी बांधना शुरू कर दी।

CM रहते उनसे कभी नहीं लेना पड़ा अपॉइंटमेंट

कमर ने बताया कि जब मोदी गुजरात के सीएम रहे तो उन्हें कभी भी उनसे अपॉइंटमेंट लेने की जरूरत नहीं पड़ती थी। हालांकि, पीएम बनने के बाद मोदी की व्यस्तता बढ़ गई और वे उन्हें राखी नहीं बांध पाईं।

ये भी पढ़ें- महाकाल को सवा लाख लड्डू का भोग तो खजराना के गणेश को बांधी गई 44 इंच की राखी

पीएम के फोन से चहरे पर आई खुशी

कमर ने बताया, 'इस बार भी मैं सोच रही थी नरेंद्र भाई व्यस्त होंगे, लेकिन दो दिन पहले मेरे पास उनका कॉल आया। उन्होंने इस बार रक्षाबंधन के दिन मुझे दिल्ली बुलाया है। मैं इससे बेहद खुश हूं।' मोदी की तारीफ करते हुए कमर ने कहा कि कड़ी मेहनत और दूर की सोच के चलते वे पीएम पद तक पहुंचे हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top