रामनाथ कोविंद के नाम पर फर्जीवाड़ा 

Ashutosh OjhaAshutosh Ojha   22 Jun 2017 9:03 PM GMT

रामनाथ कोविंद के नाम पर फर्जीवाड़ा रामनाथ कोविंद 

लखनऊ । अभी कुछ दिनों पहले भारत में चौदहवें राष्ट्रपति की खोज शुरू हुयी। एनडीए की तरफ से देश के सामने एक नाम आया "रामनाथ कोविंद"। देश के अगले राष्ट्रपति का नाम आते देर नहीं लगी और लोगों ने अगले राष्ट्रपति को सोशल साइट्स पर ढूंढना भी शुरू कर दिया। लेकिन लोगों को रामनाथ कोविंद को ढूंढ पाना इतना आसान नहीं था क्यों कि ये ऐसा नाम था जो बहुत ज्यादा सोशल मीडिया फ्रेंडली नहीं था और आखिर में हुआ ये जिसका किसी को अंदाजा भी नहीं था।

ये भी पढ़ें- विपक्ष के लिए मीरा कुमार हैं राष्ट्रपति पद की उम्मीद, क्या दे सकेंगी कोविंद को टक्कर

देश की तत्कालीन सरकार ने रामनाथ कोविंद का नाम इस तरह से देश के सामने पेश किया कि सभी राजनैतिक पार्टियां चारों खाने चित हो गयी। पहले कुछ राजनैतिक पार्टियों के नेताओं के द्वारा दबी आवाज में राम नाथ कोविंद का राष्ट्रपति पद के लिए विरोध हुआ, लेकिन फिर दलित होने के कारण सभी राजनैतिक पार्टियों को बीजेपी के आगे झुकना ही पड़ा। और अब रामनाथ कोविंद का नाम लगभग तय हो गया हमारे अगले राष्ट्रपति के लिए।

इन सबके बाद अब सबसे दिलचस्ब बात ये है कि रामनाथ कोविंद जिनका नाम सोशल साइट्स पर न के बराबर था अब अचानक वो फेसबुक, ट्विटर पर कैसे आने लगे है वो भी एक दो नहीं बल्कि कई फेक एकाउंट्स के साथ। हो सकता है कि आपको इस बात पर पूरा भरोसा न हो इसलिए हम आपके सामने पूरे साक्ष्य भी साथ लाये हैं जिसे आप देख सकते है.......

रामनाथ कोविंद

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top