किसानों के लिए बड़ी ख़बर, गारंटी फ्री लोन सीमा 1 लाख से बढ़ाकर 1.60 लाख की गई

किसानों के लिए बड़ी ख़बर, गारंटी फ्री लोन सीमा 1 लाख से बढ़ाकर 1.60 लाख की गई

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने किसानों के लिए कॉलेटरल फ्री लोन की सीमा 1 लाख रुपए से बढ़ाकर 1.60 लाख रुपए कर दी है। इसका मतलब यह है कि अब से किसानों को 1.60 लाख रुपये तक का लोन लेने के लिए गारंटी देने की ज़रूरत नहीं होगी। गुरुवार को आरबीआई ने यह घोषणा की है। जिन किसानों के पास खेती के लिए अपनी ज़मीन नहीं है, उन्हें इससे काफी फायदा हो सकता है।



मौद्रिक नीति की समीक्षा के दौरान आरबीआई ने यह बड़ा फैसला लिया है। बता दें कि यह सीमा 9 साल बाद बढ़ाई गई है, इसीलिए इसे किसानों के हित में बड़ा कदम माना जा रहा है।

किसानों के लिए गारंटी फ्री लोन की सीमा 2010 में एक लाख रुपय तय की गई थी। अब महंगाई के बढ़ने और किसानों की लागत बढ़ने की वजह से इस लोन सीमा को बढ़ाने के फैसला किया गया है। इससे जुड़ा सर्कुलर जल्द जारी किया जाएगा। साथ ही, कृषि लोग से जुज़े मामलों को देखने के लिए एक वर्किंग ग्रुप का गठन भी किया जाएगा।

किसानों को मिली एक हफ्ते में दूसरी बड़ी राहत

1 फरवरी को पेश किए गए अंतरिम बजट में सरकार ने ऐलान किया था कि पांच एकड़ तक की ज़मीन वाले किसानों को सालाना 6 हज़ार रुपये दिए जाएंगे। यह धनराशि तीन किस्तों में दी जाएगी। हर बार दो हज़ार रुपये किसानों के खाते में सीधे जमा कराए जाएंगे। पहली किस्त मार्च से पहले दी जाने की बात कही गई है।

सभी किसानों को फसल लोन पर ब्याज में 2 प्रतिशत की छूट मिलेगी। लोन री-शेड्यूल होने के बाद वक्त पर लोन लौटाने पर ब्याज में 3 प्रतिशत की अतिरिक्त छूट मिलेगी, यानी 5 प्रतिशत छूट मिल जाएगी।

यह भी पढ़ें: बजट पर किसानों की राय- छह हजार तो ठीक, लेकिन फसलों का दाम भी मिले तो बेहतर


Share it
Top