स्मॉग से कैसे करें त्वचा और बालों की देखभाल 

स्मॉग से कैसे करें त्वचा और बालों की देखभाल फोटो प्रतीकात्मक 

लखनऊ। दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण का स्तर कम होता नहीं दिख रहा है। पूरा दिल्ली स्मॅाग की चादर में लिपटा हुआ है जो सेहत के लिये सबसे खतरनाक है।

प्रतिष्ठित मेडिकल जर्नल, द लांसेट में प्रकाशित इस अध्ययन के अनुसार, भारत में प्रदूषण से हुई मौतों के मामले में साल 2015 में भारत 188 देशों की सूची में पांचवे स्थान पर रहा है। दुनियाभर में हुई करीब 90 लाख मौतों में से 28 प्रतिशत मौतें अकेले भारत में हुई हैं। यानी यह आंकड़ा 25 लाख से ज़्यादा है। ये मौतें वायु, जल और अन्य प्रदूषण के कारण हुई हैं।

वायु प्रदूषण में मौजूद पार्टिकुलेटेड मैटर और विषैली गैसें जब त्वचा की नमी या पसीने के संपर्क में आती हैं तो एसिडिक नेचर की हो जाती हैं। ऐसे में त्वचा पर जलन महसूस होती है।

देखें वीडियो-धुंध का असर : यमुना एक्सप्रेस वे पर आपस में टकराए कई वाहन

प्रदूषण की वजह से सीने में जलन, खांसी, सर्दी सहित कई तरह की समस्याएं तो होती ही हैं साथ ही साथ इसका दुष्प्रभाव आपकी स्किन और बालों की सेहत पर भी पड़ता है। प्रदूषण के हानिकारक रसायन आपकी त्वचा को बुरी तरह से प्रभावित करते हैं। इससे कम उम्र में ही आप पर बुढ़ापे का असर दिखने लगता है तथा चेहरे पर झुर्रियों आदि की समस्या आने की आशंका भी बढ़ जाती है। स्किन और हेयर्स को प्रदूषण से बचाने के तमाम उपचार बाजार में मौजूद हैं लेकिन आप घरेलू तरीकों से भी इस समस्या का निदान आसानी से पा सकते हैं।

त्वचा की सुरक्षा कैसे करें

वायु प्रदूषण में मौजूद पार्टिकुलेटेड मैटर और विषैली गैसें जब त्वचा की नमी या पसीने के संपर्क में आती हैं तो अम्लीय यानी कि एसिडिक नेचर की हो जाती हैं। ऐसे में त्वचा पर जलन महसूस होती है। यह त्वचा की रंगत पर असर डालती है। साथ ही साथ त्वचा पर बढ़ती उम्र का प्रभाव बढ़ने लगता है और मुहांसे आदि के आने की भी आशंका बढ़ जाती है। डिहाइड्रेट आपकी त्वचा एन्वायरमेंटल स्ट्रेस के प्रति काफी संवेदनशील होती है। ऐसे में आपको अपनी त्वचा को हाइड्रेट रखना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए आप कुछ ड्रिंक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं जो आपके रक्त प्रवाह को दुरुस्त रखते हैं और शरीर से विषाक्त तत्वों को बाहर करते हैं। जैसे –

  • मिक्स्ड वेजिटेबल जूस – गाजर, पालक, लौकी, खीरा, टमाटर, लहसुन और आंवला को मिलाकर जूस तैयार करें और उसका सेवन करें।
  • नारियल-नींबू डिटॉक्स वाटर – इसे बनाने के लिए आधे कप गर्म पानी में एक कप ताजा नारियल पानी मिलाएं। अब इसमें एक ताजा नींबू निचोड़ें। आपका डिटॉक्स ड्रिंक तैयार हैं। इसका सेवन करें।
  • लौंग और पुदीना की पत्ती का फेस पैक – एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी में 6-7 कुचली हुई पुदीना की पत्ती तथा 2-3 पिसा हुआ लौंग मिलाएं। अब इसमें पानी मिलाकर एक मोटा पैक तैयार करें। इसके बाद इस पैक को 15-20 मिनट तक चेहरे पर लगाएं और बाद में पानी से धो लें।
  • नीम और तुलसी का फेस पैक – एक चम्मच चंदन पाउडर में कुछ कुचली हुई नीम और तुलसी की पत्तियां मिलाएं। अब इसमें एक चुटकी हल्दी पाउडर तथा पानी मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इस फेस पैक को 15-20 मिनट चेहरे पर लगाए रखें। बाद में धो लें।
  • बालों की सुरक्षा – प्रदूषण का दुष्प्रभाव से बालों में रूखेपन और उनके बेजान होने की समस्या सामने आती है। ऐसे में आप घर बैठे कुछ हेयर मास्क बनाकर इनकी सेहत दुरुस्त कर सकते हैं।
  • अंडे और कैस्टर ऑयल का मास्क – एक कच्चे अंडे में एक चम्मच कैस्टर ऑयल मिलाइए। अब इसे हेयर मास्क को बालों में लगाइए और 15-20 मिनट तक यूं ही रहने दीजिए। बाद में पानी से धो लीजिए।
  • बनाना-आलमंड मिल्क हेयर मास्क – आधा बारीक कटा हुआ केला, एक चम्मच शहद और बादाम का दूध मिलाकर अच्छी तरह मिक्सर में पीस लीजिए। इसके बाद बालों को भिगोकर तौलिए से अच्छी तरह पोछ लीजिए और फिर यह हेयर मास्क लगाइए। बालों में शॉवर कैप लगा लीजिए। 20-25 मिनट तक मास्क को यूं ही लगा रहने दीजिए और बाद में पानी से धो लीजिए।

ये भी पढ़ें-सर्दियों में ड्राई आइज की न करें अनदेखी

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top