Top

खुदरा महंगाई दर साढ़े पांच साल के उच्चतम स्तर पर

Retail inflation, inflation, food prices

खुदरा महंगाई दर साढ़े पांच साल के उच्च्तम स्तर पर पहुंच गई है। दिसंबर 2019 में महंगाई दर बढ़कर 7.35 फीसदी हो गई है जो नवंबर में 5.54 फीसदी थी। इसके अलावा खाद्य महंगाई दर भी बढ़ी है। नवंबर में खाद्य महंगाई दर 10.01 फीसदी थी जो दिसंबर में 14.12 फीसदी हो गई है। जुलाई 2016 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब महंगाई दर रिजर्व बैंक के अपर लिमिट से आगे निकल गया है। जुलाई 2014 में महंगाई दर 7.39 फीसदी थी।

खुदरा महंगाई दर लगातार पांचवें महीने बढ़ी है जबकि खाद्य महंगाई दर में लगातार 10वें महीने बढ़ोतरी हुई है। खुदरा महंगाई दर अब भारतीय रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर से कहीं आगे है। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) ने सोमवार को जारी अपनी रिपोर्ट में बताया कि दिसंबर 2019 में सब्जियों की महंगाई दर 60.50 फीसदी रही। मतलब दिसंबर 2018 की तुलना में दिसंबर में सब्जियों की कीमत 60.50 फीसदी बढ़ी जबकि दालों और इनसे बने उत्पादों की महंगाई दर 15.44 फीसदी रही। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित खुदरा मुद्रास्फीति नवंबर, 2019 में 5.54 प्रतिशत और दिसंबर, 2018 में 2.11 प्रतिशत के स्तर पर थी।

सब्जी और दालों के अलावा मांस-मछली की महंगाई दर दिसंबर 2019 में 9.57 फीसदी रही। अंडे की कीमत एक साल पहले की तुलना में 8.9 फीसदी बढ़ी है। सब्जियों की महंगाई दर अक्टूबर 2019 में में 26 फीसदी थी, फिर नवंबर में बढ़कर 36 फीसदी हो गई और अब दिसंबर में इतनी बढ़ गई कि किचन का बजट ही बिगड़ गया।

Updating...

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.