मुगलसराय स्टेशन के नाम बदलने को लेकर राज्यसभा में हुआ हंगामा

मुगलसराय स्टेशन के नाम बदलने को लेकर राज्यसभा में हुआ हंगामामुगलसराय स्टेशन के नाम बदलने को लेकर राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ।

नई दिल्ली। गृह मंत्रालय द्वारा मुगलसराय स्टेशन के नाम को बदलने के लिये दी गई हरी झण्डी को लेकर राज्यसभा में जमकर हंगामा हुआ। सपा के सांसदों ने इसका विरोध किया। बीजेपी इस वर्ष पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म शताब्दी वर्ष मना रही है।

योगी सरकार ने कैबिनेट की बैठक में मुगलसराय के मुख्य मार्ग का नाम बदलकर दीनदयाल के नाम पर करने चौराहे पर उनकी प्रतिमा लगाने और उसका नाम दीनदयाल चौक करने का भी निर्णय लिया था।

ये भी पढ़ें- बदला जाएगा मुगलसराय स्टेशन का नाम, गृहमंंत्रालय ने दी हरी झण्डी

क्या है पूरा मामला

साल 1968 में दीनदयाल का शव संदिग्ध हालत में मुगलसराय स्टेशन पर मिला था। इनकी शिनाख्त न हो पाने के कारण पुलिस इनके शव को लावारिस मान रही थी। स्टेशन पर कार्यरत कुछ कर्मचारियों को शक हुआ कि ये पंडित दीनदयाल का शव है।

ये भी पढ़ें- एलोवेरा की खेती का पूरा गणित समझिए, ज्यादा मुनाफे के लिए पत्तियां नहीं पल्प बेचें, देखें वीडियो

इसके बाद संघचालक गोलवरकर और अटल बिहारी वाजपेयी मुगलसराय आए और उनके शव को लेकर दिल्ली चले गये जहां उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। कुछ स्थानीय लोगों का कहना है कि मुगलसराय लाल बहादुर शास्त्री की जन्म स्थली है इसलिये इसका नाम उनके नाम पर होना चाहिये।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top