सचिन तेंदुलकर ने फेसबुक पर रखी दिल की बात, ‘राइट टू प्ले’ को बताया जरूरी

सचिन तेंदुलकर ने फेसबुक पर रखी दिल की बात, ‘राइट टू प्ले’ को बताया  जरूरीसचिन तेंतुलकर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान तथा राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर पहली बार 21 दिसंबर को राज्यसभा में बोलने वाले थे, लेकिन विपक्ष के हंगामे की वजह से सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई, और 'राइट टु प्ले', यानी 'खेलने के अधिकार' पर सचिन तेंदुलकर के विचार जानने से देश वंचित रह गया। अगर सचिन तेंदुलकर गुरुवार को संसद में बोल पाते, तो यह वर्ष 2012 में राज्यसभा सदस्य मनोनीत किए जाने के बाद उनका पहला भाषण होता।

क्या कहा सचिन तेंदुलकर, अाप भी सुनें

सचिन कल भले ही नहीं राज्यसभा में नहीं बोल पाए, लेकिन उन्होंने आज अपने फेसबुक पेज पर अपने दिल की बात कही। आप भी सुनिए, उन्होंने युवाओं के लिए क्या कहा।

अपने भाषण की शुरुआत सचिन ने कुछ इस तरह की है- 'नमस्कार मेरे प्यारे देशवासियों। कल कुछ ऐसी बातें थी, जिसे मैं आप तक पहुंचाना चाहता था। अभी भी मैं वही कोशिश करूंगा।'

ये भी पढ़ें- राज्यसभा में अपना पहला भाषण नहीं दे पाए सचिन तेंदुलकर

“कल कुछ ऐसी बातें थीं जो मैं आपतक पहुंचाना चाहता था। मैं आप लागों को बताना चाहता हूं कि मैं जो कुछ भी कर सका, उसमें मेरे पिता का योगदान सबसे ज्यादा रहा। उन्होंने कभी भी मुझे खेलने से नहीं रोका। देश में तमाम तरह की समस्याएं हैं। लेकिन चूंकि मैं एक खिलाड़ी हूं इसलिए मैं खेल, युवा और फिटनेस पर बात करूंगा। हमारे देश में युवाओं की संख्या सबसे ज्यादा है। ऐसे में उन्हें और सक्रिय होना पड़ेगा।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top