मायावती पर टिप्पणी करने वाली भाजपा विधायक से महिला आयोग ने स्पष्टीकरण मांगा

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • koo
sadhna Singh controversial statement on Mayawatiसमाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत करतीं साधना सिंह

नई दिल्ली। बसपा प्रमुख मायावती की तुलना कथित तौर पर किन्नर से करने संबंधी बयान की निंदा करते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग ने सोमवार को भाजपा विधायक साधना सिंह को नोटिस जारी कहा कि वह अपनी इस अनैतिक, अपमानजनक और गैरजिम्मेदराना टिप्प्णी पर संतोषजनक स्पष्टीकरण दें। आयोग ने साधना सिंह के कथित बयान से जुड़ी खबरों का हवाला देते हुए कहा कि यह टिप्पणी बेहद आक्रामक, अनैतिक है तथा यह महिलाओं की गरिमा और सम्मान का अनादर करती है और आयोग ऐसी टिप्पणी की निंदा करता है।

यह भी पढ़ें-जानिए क्या था वह 'गेस्ट हाउस कांड', जिसे बसपा सुप्रीमो मायावती ने आज फिर किया याद

महिला आयोग ने कहा कि भाजपा विधायक नोटिस मिलने के बाद अपने कथित बयान के संदर्भ में आयोग को संतोषजनक स्पष्टीकरण दें। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में मुगलसराय क्षेत्र से भाजपा विधायक साधना सिंह ने चंदौली जिले के करणपुरा गांव में शनिवार को आयोजित किसान कुंभ कार्यक्रम में मायावती को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

उन्होंने बसपा प्रमुख का जिक्र करते हुए कहा, "हमको तो उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ना तो महिला लगती हैं और ना ही पुरुष। इनको तो अपना सम्मान ही समझ में नहीं आता। जिस महिला का इतना बड़ा चीरहरण हुआ लेकिन कुर्सी पाने के लिए उसने अपने सारे सम्मान को बेच दिया। ऐसी महिला मायावती का हम इस कार्यक्रम के माध्यम से तिरस्कार करते हैं।"

यह भी पढ़ें-दो कदम पीछे हटे और मिलाया हाथ

साधना ने आरोप लगाया था, "वह महिला नारी जात पर कलंक हैं। जिस महिला की आबरू को भाजपा के नेताओं ने लुटते-लुटते बचाया उसी ने सुख-सुविधा के लिए अपमान को पी लिया। ऐसी महिला तो किन्नर से भी ज्यादा बदतर है। वह ना नर है, ना महिला है, उसकी किस श्रेणी में गिनती करनी है।" बयान पर विवाद खड़े होने और चौतरफा आलोचना के बाद साधना ने माफी मांग ली थी।

(भाषा से इनपुट)


 

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.