अब लखनऊ का हज हाउस भी हुआ भगवा , विपक्ष ने उठाए सवाल

अब लखनऊ का हज हाउस भी हुआ भगवा , विपक्ष ने उठाए सवालभगवा रंग में रंगा हज हाउस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री कार्यालय के बाद यूपी हज हाउस समिति की दीवारों का भी भगवाकरण हो गया है। लखनऊ के बापू भवन के सामने स्थित यूपी हज समिति की दीवारें शुक्रवार को भगवा रंग में रंगी दिखीं। इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं। इससे पहले हज हाउस की दीवारों पर सफेद और हरा रंग था।

सरकार के इस कदम का विपक्षी दलों और मुस्लिम संगठनों ने विरोध किया है। राजनैतिक पार्टियों का आरोप है कि सरकार जानबूझकर एक धर्म विशेष की भावनाओं को उकसा रही है।

हालांकि अपना सरकार का बचाव करते हुए हज मंत्री मोहसिन रजा ने कहा, "ऐसे मामलों को तूल देने की कोई जरुरत नहीं है। केसरिया रंग ऊर्जा का प्रतीक है। अब भवन अच्छा दिख रहा है। विपक्ष के पास कोई बड़ा मुद्दा नहीं है लिहाजा वह ऐसे मुद्दों को उछाल रहा है।"

ये भी पढ़ें- अब 19 राज्यों में बीजेपी का परचम

समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील सिंह सजन ने कहा, "रंग की सियासत खेल रहे हैं। अगर भगवा हिंदुत्व का प्रतीक है और उनके आस्था का प्रतीक है, लेकिन अगर ये रंग भूखे को रोटी नहीं दे सकता, बेरोजगारों को रोजगार नहीं दे सकता तो ऐसी आस्था का कोई मतलब नहीं है। ये सरकार अपनी नाकामी को छुपाने के लिए रंगों का खेल-खेल रही है। अब तक आश्रम भगवा रंग में होते थे, ऑफिस की बिल्डिंग नहीं। अधिकारी भी चापलूसी में लगे हैं। रंगा सियार ज्यादा दिन नहीं छुपता।"

मोहसिन रजा के बयान पर साजन ने कहा, "वे सिर्फ चापलूसी कर रहे हैं। उन्हें अपनी कुर्सी बचानी है इसलिए ऐसी बातें कर रहे हैं। अगर विपक्ष के पास मुद्दा नहीं है, तो सरकार के पास कौन सा मुद्दा है। क्या विकास हो रहा है?"

हज हाउस की दीवारों को भगवा रंग में रंगने पर विपक्षी दलों समेत कई मुस्लिम संगठनों ने इसका विरोध किया है। उलेमा का कहना है- "सरकार मजहबी जज्बातों को कुदेरने में जुटी है।"

सचिवालय भवन से लेकर बसों का रंग भी हुआ भगवा

बता दें योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से सचिवालय भवन को भी भगवा रंग में रंग गया। यहां तक की सरकारी पोस्टर में भी भगवा रंग का प्रयोग देखने को मिल रहा है। योगी सरकार के आने के बाद भगवा बसों का भी संचालन शुरू किया गया है।

Share it
Top