शराब की दुकान बंद करवाने के लिए प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों से बोले एसडीएम, 'शराब की दुकान नहीं खुलने दी तो पीएसी बुलाऊंगा'- देखें वीडियो

एसडीएम ने शराब की दुकान खुलने का विरोध करने वाले ग्राम प्रधान और ग्रामीणों को जमकर धमकाया। इस धमकी का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

शराब की दुकान बंद करवाने के लिए प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों से बोले एसडीएम, शराब की दुकान नहीं खुलने दी तो पीएसी बुलाऊंगा- देखें वीडियो

पौड़ी (उत्तराखंड)। नशा बंदी को लेकर एक ओर ग्रामीण धरना दे रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर प्रशासनिक अधिकारी ने सत्ता के नशे में शराब की दुकान खुलवाने के लिए ग्रामीणों को खुलेआम धमकी दे डाली।

उत्तराखंड के यमकेश्वर के मोहनचट्टी में एक शराब की दुकान के विरोध में ग्रामीण शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे, इन ग्रामीणों का प्रदर्शन खत्म कराने के साथ ही शराब की दुकान को जबरन खुलवाने के लिए एसडीएम यमकेश्वर कमलेश मेहता लैंसडौन के एसडीएम के साथ जा धमके और ग्राम प्रधान और ग्रामीणों को धमकाना शुरू कर दिया। इस धमकी का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एसडीएम कह रहे हैं कि अगर दुकान नहीं खोलने दी तो मैं पीएसी बुलाऊंगा।


इससे पहले भी उत्तरांखंड के लोग एकजुटता का परिचय देते हुए चिपको आंदोलन के दौरान कटते हुए पेड़ों को बचाने के लिए लामबंद हुए थे। अपने घरों को शराब से बचाने के लिए उत्तराखंड के लोग कई बार आदोलन कर चुके हैं।

इस बारे में जब एसडीएम यमकेश्वर कमलेश मेहता से गाँव कनेक्शन ने फोन पर बात की तो उन्होंने कहा, "शराब की दुकान लाइसेंस देने के बाद खोली जा रही थी, लेकिन गाँव के लोग शराब माफियाओं के प्रभाव में नहीं खुलने दे रहे। अगर लाइसेंसी दुकान खुल गई तो शराब माफियाओं का धंधा चौपट हो जाएगा। इससे पहले भी विरोध के चलते दूसरी जगह यह दुकान बंद करनी पड़ी।"

Share it
Top