दिल्ली : बवाना की पटाखा फैक्ट्री में लगी आग में मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हुई

दिल्ली : बवाना की पटाखा फैक्ट्री में लगी आग में मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हुईदिल्ली के बवाना में दर्दनाक हादसा।

नई दिल्ली। दिल्ली के बवाना औद्योगिक क्षेत्र में लगी भीषण आग में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई। पटाखा फैक्ट्री में लगी इस आग में जान बचाने के लिए कई लोग दो मंजिला बिल्डिंग से कूद गए। हादसे में कम से कम 30 लोग घायल हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर शोक जताया है। दिल्ली सरकार ने हादसे की जांच के आदेश दिए हैं।

बाहरी दिल्ली के बवाना औद्योगिक क्षेत्र में शाम दो मंजिला एक फैक्ट्री में आग लगने से 17 लोगों की मौत हो गई। दिल्ली दमकल सेवा के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। पुलिस ने आग में 17 लोगों के मरने की पुष्टि की है। अधिकारी ने बताया कि आग एक पटाखा फैक्ट्री से शुरू हुई। हालांकि इस पर काबू पा लिया गया है। खबर लिखे जाने तक अधिकारी ने कहा कि बचाव अभियान जारी है क्योंकि और भी लोगों के फैक्ट्री के अंदर फंसे होने की आशंका है। उन्होंने बताया कि दिल्ली दमकल सेवा को आग लगने के बारे में शाम करीब 6:20 बजे सूचना मिली थी और दमकल की 10 गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंची। अधिकारी के मुताबिक पटाखा फैक्ट्री की दूसरी मंजिल पर एक रबर फैक्ट्री है।

आग बुझाने की कोशिशें देर रात तक जारी रहीं।

दिल्ली फायर सर्विस के डायरेक्टर जीसी मिश्रा ने बताया, 'हमें बवाना सेक्टर 1 की प्लास्टिक फैक्ट्री, सेक्टर 5 की पटाखा फैक्ट्री और तीसरी कॉल एक ऑइल स्टोरेज डिपो से मिली थी। सभी मौतें सेक्टर 5 में लगी आग से हुई हैं। आग पर काबू पा लिया गया है। अभी तक हमें 17 शव मिले हैं।'

बवाना में हुआ हादसा।

दिल्ली में शनिवार रात कुल तीन जगहों पर आग लगी थी, जिन पर काबू पा लिया गया। पुलिस और दमकल के मुताबिक 40 से ज्यादा दमकल की गाड़ियों ने मिलकर आग पर काबू पाया। हादसे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताया है। पीएमओ के ट्विटर हैंडल पर हादसे पर दुख जताते हुए पीएम ने मृतकों के परिजनों को सांत्वना और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

Share it
Top