Top

जम्मू-कश्मीर के युवाओं की प्रेरणा बन गए शहीद लेफ्टिनेंट उमर फैयाज

जम्मू-कश्मीर के युवाओं की प्रेरणा बन गए शहीद लेफ्टिनेंट उमर फैयाजशहीद फयाज को राजौरी के लोगो ने दी नम आखो से श्रदांजली।

राजौरी (जम्मू-कश्मीर)। शहीद लेफ्टिनेंट उमर फैयाज आज घाटी समेत देश के कई युवाओं का रोल मॉडल बन चुका है। हाल ही में कश्मीर के कुलग्राम में लेफ्टिनेंट उमर फयाज की आतंकियों ने अगुआ करने के बाद हत्या कर दी थी। आतंकियों की इस कायरतापूर्ण हरकत के विरोध में राजौरी गुजरमंडी चोक में कैंडल जला कर शहीदी साथम के पास उसे नम आखो से श्रदांजली दी गई। इस अवसर पर काफी संख्या में वहा पर लोग मोजूद रहे।

वाही श्रदांजली देते हुए लोगो ने कहा की भारत और पाकिस्थान को बन्दूक की गोली नहीं प्यार की भाषा बोलनी चाहिए क्यों कि कोई भी मसला झगड़े से नहीं खत्म होता बल्कि प्यार से होता है वाही उन्होंने कहा की आज हर नौजवान उमर फैयाज बनना चाहता है और देश की सेवा करना चाहता है श्रदांजली देते हुए लोगो ने कहा की आज उमर फैयाज के परिवार के साथ पूरा देश है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राजपुताना रायफल्स में तैनात उमर फयाज ने अभी छह महीने पहले ही सेना ज्वाइन की थी। उन्होंने पुणे की रक्षा अकादमी में शिक्षा हासिल की थी और 10 दिसंबर 2016 को सेना में कमीशन प्राप्त किया था। उमर ने अभी हाल में अपने रिश्तेदार की शादी में जाने के लिए यूनिट से छुट्टी ली थी। लेकिन उनकी यह पहली छुट्टी ही आखिरी छुट्टी साबित हुई।

उमर को आतंकियों ने कुलगाम से अगुवा कर लिया था। वो यहां अपने कजिन की शादी में शामिल होने आये थे। अगुवा होने के कुछ दिन बाद उनकी लाश शोपियां में मिली। उनकी पार्थिव शरीर पर कई गोलियों के निशान पाए गए। आतंकियों की इसी कायराना हरकत के विरोध में आज पूरा देश एक है और सभी शहीद लेफ्टिनेंट उमर फैयाज को श्रदांजली दे रहे हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.