Top

शाहजहांपुर: पांच साल की बच्ची की हत्या, मरणासन्न मिली चचेरी बहन का इलाज जारी

यूपी के उन्नाव में दलित नाबालिग लड़कियों के साथ हुई घटना के बाद शाहजहांपुर जिले में दो बच्चियों के अपहरण और एक की हत्या का मामला सामने आया है। लगभग पांच साल की बच्ची मृत मिली जबकि सात साल की बच्ची की हालत गंभीर है, जिसका इलाज चल रहा है।

Ramji MishraRamji Mishra   23 Feb 2021 12:00 PM GMT

Shahjahanpur crime, Body of Minor Girl Found, Shahjahanpur, UP Crime, Girls Missingइसी सरसों के खेत में मिला था बच्ची का शव। (सभी फोटो- मोहित शुक्ला, राम जी मिश्रा, गांव कनेक्शन)

राम जी मिश्रा/ मोहित शुक्ला

शाहजहांपुर (उत्तर प्रदेश)। शाहजहांपुर के कांट थाना क्षेत्र में दो नाबालिग बच्चियों का अपहरण कर एक की हत्या कर दी गई जबकि गंभीर रूप से घायल दूसरी बच्ची को बरेली मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया है। पुलिस के मुताबिक रिपोर्ट दर्ज कर जांच जारी है। दूसरी बच्ची की हालत नाजुक है उसका इलाज जारी है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से लगभग 170 किमी दूर शाहजहांपुर जिले के कांट थाना क्षेत्र में सोमवार शाम पुलिस को बताया गया कि घर के नजदीक ही एक स्कूल में बने नल के पास से दो चचेरी बहनें गायब हो गई हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर आसपास तलाशी शुरू की। लगभग नौ बजे घटनास्थल से लगभग एक किलीमीटर दूर सरसों के खेत से पांच साल की बच्ची का शव मिला। गांव वालों की मदद से देर रात चले तलाशी अभियान के बाद घायल अवस्था में सात वर्षीय दूसरी बच्ची भी मिली। गंभीर रूप से घायल बच्ची को पहले पास के सरकारी अस्पताल भेजा गया जहां से उसे बरेली मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया है जहां उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।

इस मामले को लेकर शाहजहांपुर के पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने वीडियो जारी कर बताया, "सोमवार शाम साढ़े तीन बजे से दोनों बच्चियां गायब थीं। दोनों हैंडपंप के पास नहा रही थीं। शाम 6 बजे तक जब बच्चियां वापस नहीं आईं तब गांव वालों ने उनकी तलाश शुरू की। हैंडपंप से लगभग एक किलोमीटर दूर एक दूसरे गांव के पास से एक बच्ची का शव मिला। उसके सिर पर चोट के निशान थे। दूसरी बच्ची रात को साढ़े ग्यारह बजे घायल अवस्था में मिली। उसके सिर पर भी चोट है और उसके गर्दन पर निशान हैं, जैसे कि किसी ने उसका गला दबाया हो। हम पूरी कोशिश कर रही हैं बच्ची को बेहतर इलाज मिले।"

वहीं इस मामले को लेकर आईजी (बरेली जोन) राजेश कुमार पांडेय ने मीडिया को बताया, "मृत पाई गई बच्ची की गर्दन पर चोट के निशान थे, जबकि दूसरी की हालत गंभीर है, उसे सांस लेने में दिक्कत है। उसके सिर और गले में चोट है। बच्ची की स्थिति अभी ठीक है जिस कारण उसका इलाज यहीं चल रहा है।"

यह भी पढ़ें- उन्नाव फोटो स्टोरी: तीनों दलित परिवारों की लड़कियों के घर और गांव की वो तस्वीरें जो कई सवाल करती हैं

दोनों बच्चियों के बाबा ने मौके पर पहुंची गांव कनेक्शन की टीम को बताया, "दोनों प्राइमरी स्कूल से लौटने के बाद पास के ही हैंडपंप पर गई थीं। वहां पहले से कुछ और बच्चे थे जो खेल रहे थे। उन्हें वहीं से उठाकर ले जाया गया। काफी देर होने के बाद भी जब वे नहीं मिलीं तब हमने पुलिस को बताया और खोजबीन शुरू की। छोटी बच्ची का शव सरसों के खेत में मिला। फिर पुलिस ने खोजना शुरू किया तो कुछ दूर गन्ने के खेत से बड़ी बच्ची मिली। उसके भी सिर में पर चोट लगी है और उसने अभी कुछ बताया नहीं है कि वे लोग कौन थे।"

पूरे जिले में घटना की चर्चा है, हालांकि पुलिस ने आश्वासन दिया है कि वे 24 घंटे के अंदर मामले को सुलझा लेंगे। एसएचओ कांट नागेंद्र सिंह ने गांव कनेक्शन को बताया कि पुलिस अभी मौके पर ही हैं वह हर पहलुओं की जांच कर रही है।

हाईवे पर झुलसी मिली बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा

शाहजहांपुर जिले में सोमवार को ही एक और बड़ी घटना हुई। एसएस कॉलेज की बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा देर शाम को अधजली स्थिति में नगरिया मोड़ पर मिली। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने आकर छात्रा को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इस मामले को लेकर एसपी एस आनंद ने बताया कि छात्रा कुछ बता नहीं पा रही है कि उसके साथ क्या हुआ है। फिलहाल पड़ताल की जा रही है। छात्रा को लखनऊ रेफर कराया गया है। महिला पुलिसकर्मी और डॉक्टर उससे लगातार संपर्क कर रहे हैं।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.