गायकवाड़ मुद्दे पर शिवसेना सदस्यों का भारी हंगामा, लोस में अफरातफरी की स्थिति

गायकवाड़ मुद्दे पर शिवसेना सदस्यों का भारी हंगामा, लोस में अफरातफरी की स्थितिलोकसभा टीवी से साभार।

नई दिल्ली (भाषा)। रवीन्द्र गायकवाड़ की हवाई यात्रा पर प्रतिबंध हटाने की शिवसेना की मांग को नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू द्वारा स्वीकार नहीं करने के बाद लोकसभा में अफरातफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई और केंद्रीय मंत्री अनंत गीते समेत शिवसेना सदस्यों ने सदन में ही राजू को घेर लिया। सरकार ने इस मुद्दे का जल्द सर्वस्वीकार्य समाधान निकालने का भरोसा दिया। इस मुद्दे पर तीन बार के स्थगन के बाद।

बजकर 15 मिनट पर सदन की कार्यवाही शुरू होने पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू और केंद्रीय मंत्री अनंत गीते ने इस विषय पर बात की। नागर विमानन मंत्री इस बारे में सभी पक्षों से बात करेंगे और जल्द से जल्द इसका सर्वस्वीकार्य समाधान निकालेंगे। इस बारे में मेरी गीतेजी, आनंदराव अडसुल और राजूजी से बात हुई।

ये भी पढ़ें- एयर इंडिया के कर्मचारी ने बदसलूकी की: गायकवाड़

उन्होंने कहा कि एयर इंडिया विमान से जुड़ी पिछले दिनों जो घटना घटी, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। यह नहीं होता तो अच्छा होता। केंद्रीय मंत्रियों समेत भाजपा सदस्य उस समय स्तब्ध रह गए जब केंद्र सरकार में सहयोगी शिवसेना के सदस्यों ने नागर विमानन मंत्री राजू के जवाब से असंतुष्ट होकर उनकी मेज को घेर लिया। गीते भी उत्तेजित होकर राजू से कुछ कहते देखे गये। गृह मंत्री राजनाथ सिंह एवं कुछ अन्य सदस्यों को गीते एवं शिवसेना सदस्यों को समझाते देखा गया। राजू अपने स्थान पर शांत बैठे थे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस सदस्य के सी वेणुगोपाल ने सदन में उत्पन्न स्थिति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि सदन में एक केंद्रीय मंत्री दूसरे मंत्री के साथ धक्का-मुक्की करते दिख रहे हों। ऐसा कैसे चलेगा। यह ठीक नहीं है। इससे पहले नागर विमानन मंत्री राजू ने कहा कि कानून अपना काम करेगा लेकिन मेरा कहना है कि कोई भी सांसद हों, पहले सभी यात्री हैं। उन्होंने कहा, ‘‘विमान एक मशीन है जो यात्रियों को लेकर उड़ता है। हम विमान की सुरक्षा से समझौता नहीं कर सकते।'' शिवसेना सांसदों के उत्तेजित होने पर राजू ने यह भी कहा कि यदि आप स्थिति को सामान्य करना चाहते हैं तो हम मिलकर ऐसा कर सकते हैं और यदि इसे और बढ़ाना चाहते हैं तो वह भी कर सकते हैं। शिवसेना सांसद असंतुष्ट होकर आगे की ओर आ गये।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top