तस्वीरों में देखें कश्मीर के सेब की खेती 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   15 Oct 2017 5:14 PM GMT

तस्वीरों में देखें कश्मीर के सेब की खेती कश्मीर के शोपियां में बाग में तैयार सेब।

शोफियां ( कश्मीर)। सेब की खेती भारत के कई प्रांतों में होती है। कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में सेब की कई नस्लें पैदा की जाती हैं। इन प्रदेशों में उन्नत किस्म के सेब की खेती होती है। पर अगर अनुकूल वातावरण मिले तो यह सेब कहीं भी पैदा हो सकते हैं। उत्तर प्रदेश में भी कई स्थानों पर किसान सेब पैदा करते हैं। तस्वीरों में देखें कश्मीर में सेब की खेती।

कश्मीर के शोपियां में बाग में लगे सेब को तोड़ता किसान।

पूरी दुनिया मे साल 2013 में आठ करोड़ टन सेब पैदा हुआ था। इसमें से भी आधा तो केवल चीन में पैदा किया गया। अकेले अमरीका मे सेब का कारोबार क़रीब चार अरब डॉलर का माना जाता है।

कश्मीर के शोपियां में बाग में लगे सेब को तोड़ने में मदद करती एक महिला किसान।

सेब की विश्व में 7500 से अधिक नस्लें पाई जाती हैं। मतलब साफ है अगर एक दिन में एक सेब का स्वाद आप चखेंगे तो तकरीबन 25 साल खर्च हो जाएंगे। सेब में औसतन 10 बीज पाए जाते हैं।

तोड़े गए कश्मीरी सेब को ले जाता कश्मीरी किसान।

आपको एक और जानकारी बताता हूं कि सेब का एक पेड़ चार-पांच साल की उम्र में फल देना शुरू कर देता है और लगभग सौ साल तक फल देता रहता है।

उफ............ये है वो लाजवाब सेब.............।

हिमाचल प्रदेश सेब की खेती के लिए पूरे विश्व में मशहूर है। यहां एक ऐसा गांव है जहां के एक-एक किसान सेब खेती से करीब 75 लाख रुपए सालाना कमाते हैं। सेब की खेती ने इस गांव को इतना विकसित कर दिया है कि यह कहा तो गांव जाता है पर यहां पर आलीशान मकानों की कमी नहीं है। यहां हर साल करीब 150 करोड़ रुपए का सेब पैदा होता है। अब आप को हम इसका नाम बताते हैं इसका नाम है मड़ावग गांव।

कश्मीर के शोपियां में सेब तोड़ने के बाद एक जगह एकत्र करते किसान।
कश्मीर के शोपियां में बाग में लगे सेब को तोड़ने के बाद बेचने के लिए पैकिंग करते किसान।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top