यूपी: फ‍िरोजाबाद में दूषित पानी पीने से मासूम भाई-बहन की मौत, 30 से अधिक बच्‍चे बीमार

यूपी: फ‍िरोजाबाद में दूषित पानी पीने से मासूम भाई-बहन की मौत, 30 से अधिक बच्‍चे बीमारPC- Daily Times

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश के फिरोजाबाद में एक ही परिवार के दो बच्‍चों की डायरिया से मौत हो गई। परिवार वालों का आरोप है कि नगर निगम के नल से आए दूष‍ित पानी पीने से बच्‍चों को डायरिया हुआ, जिसके बाद इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। दूषित पानी पीने से 30 से अधिक बच्‍चों की हालत खराब है।

ये है पूरा मामला...

मामला फिरोजाबाद थाना क्षेत्र के आनंद नगर में सोमवार रात को प्रेमचंद सविता का पुत्र विक्की (4)और पुत्री लक्ष्मी (5) की मौत हो गई। लोगों को आरोप है कि सप्लाई का पानी पीने से दोनों बच्चों की तबीयत बिगड़ गई थी।

इसे भी पढ़ें- बिहार बाढ़: कोई पानी में गृहस्थी का सामान तलाश रहा तो कोई मां का संदूक, सब बह गया

मृतक बच्चों के पिता ने बताया कि कई दिनों से मोहल्ले में नगर निगम द्वारा दूषित पानी की सप्लाई की जा रही थी। इसकी शिकायत पहले भी अधिकारियों से की गई थी लेकिन कोई भी इस बात की ओर ध्यान नहीं दिया। यही गंदा पानी पीने से मेरे बच्चों की मौत हो गई। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसी मोहल्ले में 30 से अधिक बच्चे उल्टी-दस्त से पीड़ित हैं। इनमें कुछ बच्चों की हालत गंभीर बताई है।

डीएम ने दिए जांच की आदेश

गांव कनेक्‍शन से बात करते हुए फिरोजाबाद के जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह ने माना कि बच्‍चों की मौत दूष‍ित पानी पीने के बाद डायरिया से हुई है। जिलाधिकारी ने बताया कि सोमवार रात 11 बजे इनकी तबीयत खराब हुई और इन्‍हें नजदीकी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। हालत गंभीर होने पर उन्‍हें आगरा रेफर कर दिया गया। इसके बाद उन्‍हें आगरा के अस्‍पताल में भर्ती कराया जहां बच्‍चों ने दम तोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें- चांद पर पहुंचने में लगेंगे 48 दिन, जानें चंद्रयान-2 से जुड़ी खास बातें

उन्‍होंने बताया कि अभी चार-पांच और ऐसे केस आए हैं जिनमें बच्‍चों की तबीयत खराब होने की बात सामने आई है। उन्‍हें जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत ठीक है। इसके बावजूद भी मैंने हर जगह टीम लगा दी है। मैं खुद मौके पर पहुंचकर लोगों से बातचीत की और उन्‍हें बताया कि पानी उबाल कर पीए।

सिंह ने बताया कि जांच की जा रही है कि कहां से सप्‍लाई वाला पानी लिक कर रहा है और अलग से भी पानी को चेक कराया जा रहा है। इसके अलावा मौके पर ही लोगों को दवाई दी जा रही है साथ ही घर-घर जाकर जांच किया जा रहा है कि कोई बच्‍चा बीमार तो नहीं है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top