सीआरपीएफ कैंप पर हुए हमले में एक आतंकी पुलिस अधिकारी का बेटा

सीआरपीएफ कैंप पर हुए हमले में एक आतंकी पुलिस अधिकारी का बेटासाभार: इंटरनेट।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले के लेथपोरा में सीआरपीएफ की चार मंजिला इमारत में अभी भी एक आतंकी के छिपे होने की आशंका है। सुरक्षाबलों द्वारा सर्च ऑपरेशन जारी है। अधिकारियों के मुताबिक अभी इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि आतंकवादी मर चुका है या जिंदा है। मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने दो आतंकियों को मार गिराया था जिसमें एक 17 वर्षीय आतंकी फरदीन अहमद खांडे पुलिस कर्मी का बेटा था जो कुछ महीने पहले जैश-ए-मुहम्मद में शामिल हुआ था।

कैंप पर हमले से पहले उसने एक वीडियो मैसेज रिकॉर्ड किया। इस वीडियो में वह सीआरपीएफ के शिविर पर हमले की योजना बना रहा है। ये वीडियो कश्‍मीर घाटी में व्‍हाट्स एप और सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। आठ मिनट के इस वीडियो में ये आतंकी युवाओं से अपील कर रहा है कि वह जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हो।

संबंधित खबरें- पुलवामा में सीआरपीएफ कैम्प पर आतंकी हमले में चार जवान शहीद, दो आतंकी ढेर

आतंकी कह रहा है कि अल्‍लाह ने चाहा, जब यह सन्देश आपके पास पहुंचेगा मैं पहले ही स्वर्ग में अपने प्रभु का अतिथि हो चुका होंगा। अधिकारी ने बताया कि ये पहली बार है कि जब किसी फिदायीन या आत्मघाती हमलावर ने हमले से पहले संदेश रिकॉर्ड किया है। सुरक्षाबल इस वीडियो का विश्‍लेषण कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- शोपियां में सुरक्षा बलों से हुई मुठभेड़ में दो आतंकी ढ़ेर, जवान घायल

कौन है फरदीन अहमद खांडे

फरदीन अहमद खांडे जम्मू-कश्मीर के बुरहान वानी इलाके त्राल का था। खांडे के पिता गुलाम मोहम्मद खांडे जम्मू-कश्मीर पुलिस में ही अधिकारी हैं। फरदीन महज 17 साल का था और दसवीं क्लास में पढ़ता था। जानकारी के मुताबिक तीन महीने पहले ही खांडे जैश-ए-मोहम्मद से जुड़ा था। ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

ये भी पढ़ें- हंदवाड़ा में लश्कर के 3 आतंकी मार गिराये गये, ऑपरेशन ‘ऑल आउट’ के तहत ‘अबतक 190’

... जब पाक की जेल से भारतीय सेना के मेजर सूरी ने अपने पिता को भेजी थी चिट्ठी

Tags:    terrorist attack 
Share it
Top