Top

बजट 2021: खेल के बजट में कटौती, पिछले साल की अपेक्षा 213 करोड़ रुपए कम हुए

वित्त वर्ष 2019-20 की अपेक्षा इस वित्त वर्ष के खेल बजट में कटौती की गई है। खेल मंत्रालय के प्रमुख आयोजन खेलो इंडिया के लिए भी बजट में कटौती की गई है।

union budget 2021-22, sports budget, budget for sports, nirmala sitaraman, budget announcement, budget updatesखेल बजट में कटौती की गई है। (फाटो- सोशल मीडिया से साभार)

संसद में सोमवार को पेश किये गये आम बजट में केंद्र सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए खेलों के बजट में कटौती की है। इस बजट में खेल के लिए कुल 2,596.14 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है जो पिछले साल के बजट से 230.78 करोड़ रुपए कम है। हालांकि खेल प्राधिकरण (साई) को 660.41 करोड़ रुपए का बजट प्रस्तावित किया गया है जो पिछले साल 500 करोड़ रुपए ही था।

खेल मंत्रालय के प्रमुख आयोजन खेलो इंडिया के बजट में भी कटौती की गई है। इस बार 657.71 करोड़ रुपए का ही आवंटन किया गया है जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में इस आयोजन के लिए 890.42 करोड़ रुपए देने की घोषणा हुई थी।

खेल के लिए आवंटित कुल बजट की बात करें तो यह पिछले वित्त वर्ष के संशोधित अनुमान से 795.99 करोड़ रुपए अधिक है। वर्ष 2020-21 में खेल के लिए पहले 2826.92 करोड़ रुपए देने की घोषणा हुई थी जिसे बाद में घटाकर 1800.15 करोड़ कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें- Budget 2021 : जानें इस साल बजट में MSME सेक्टर को क्या-क्या मिला?

राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) को सरकार से मिलने वाली सहायता राशि को सरकार ने इस बजट में बढ़ा दिया है। इस साल इस मद के लिए 280 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया है जो कि पिछले बजट में 245 करोड़ रुपए ही था, हालांकि बाद में इसे भी संशोधित करके 132 करोड़ रुपए कर दिया गया था।

राष्ट्रीय खेल विकास कोष के लिए 25 करोड़ रुपए आवंटित किये गये हैं, जबकि वर्ष 2020-21 के बजट में संशोधित आवंटन 7.23 करोड़ रुपए था।

जम्मू-कश्मीर में खेल के विकास के लिए 50 करोड़ रुपए का बजट प्रस्तावित किया गया है जबकि पिछले बजट में 25 करोड़ रुपए ही आवंटित हुआ था। हालांकि वर्ष 2019-20 के बजट में भी इस राज्य के लिए 50 करोड़ रुपए आवंटित हुए लेकिन बजट सत्र 2020-21 में इसे घटाकर 25 करोड़ रुपए कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें- बजट 2021: इनकम टैक्स में कोई राहत नहीं, 75 साल से ऊपर के पेंशन धारकों को नहीं भरना होगा आईटीआर

वर्ष 2010 में भारत में हुए राष्ट्रमंडल खेलों के लिए उपयोग में लाए गए स्टेडियमों के नवीनीकरण और रखरखाव के लिए आवंटित बजट को भी घटा दिया गया है। पिछले वित्त वर्ष में इस मद के लिए 66 करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे जबकि इसे इस साल घटाकर 30 करोड़ रुपए कर दिया गया है।

खेलों के लिहाज से यह साल बहुत महत्वपूर्ण है। इस साल टोक्यो ओलंपिक का आयोजन होना है और भारत में ही क्रिकेट 20-20 वर्ल्ड कप का भी आयोजन हो सकता है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.