भारतीय सैनिकों ने 3 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया 

भारतीय सैनिकों ने 3 पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया भारतीय सेना।

श्रीनगर/नई दिल्ली (आईएएनएस)। भारतीय सेना के कमांडो ने सोमवार शाम नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार कर तीन पाकिस्तानी सैनिकों को मार गिराया। भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान की तरफ वास्तविक सीमा के अंदर 200-300 मीटर तक घुसकर यह कार्रवाई की है।

भारतीय सेना ने यह कार्रवाई जम्मू एवं कश्मीर में सीमा पार से गोलीबारी में एक मेजर समेत चार जवानों के शहीद हो जाने के दो दिन बाद की है। सूत्रों के अनुसार, यह स्थानीय स्तर की रणनीतिक कार्रवाई थी और एक कम दूरी की कार्रवाई थी।

सूत्रों ने हालांकि इस कार्रवाई को 29 सितंबर, 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक की तरह नहीं बताया है, जिसमें भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तानी क्षेत्र में स्थित आतंकी लांच पैड को निशाना बनाया था।

सूत्रों के अनुसार, "पाकिस्तान सेना के 59 बलूच रेजीमेंट को निशाना बनाया गया, जिसमें तीन पाकिस्तानी सैनिक मारे गए और एक अन्य घायल हो गया।" सूत्रों ने बताया कि खुफिया जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान की तरफ तीन अन्य लोग मारे गए है।

सूत्रों के मुताबिक, यह 'रणनीतिक' कार्रवाई सोमवार शाम छह बजे की गई, जिसके तहत भारतीय सीमा में घुसकर आईईडी लगाने की पाकिस्तानी सैनिकों की साजिश विफल कर दी गई।

वर्ष 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद, भारतीय सेना द्वारा सीमा पार जाकर कार्रवाई करने का यह पहला मामला है। सूत्रों ने हालांकि बताया कि समय-समय पर भारतीय सेना सीमा पार जाकर अभियानों को अंजाम देती रहती है।

यह भी पढ़ें प्याज की कीमत पर नियंत्रण के लिए सरकार उठा सकती है ये बड़ा कदम

पाकिस्तानी सेना ने इस बात की पुष्टि की है कि रावलकोट के रुख चाकरी सेक्टर में भारतीय जवानों द्वारा कथित रूप से बगैर उकसावे के सीमपार से की गई गोलीबारी में तीन जवान मारे गए। इससे दो दिन पहले, राजौरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तानी सेना की ओर से गश्त कर रहे भारतीय जवानों पर की गई भीषण गोलीबारी में चार जवान शहीद हो गए थे।

यह भी पढ़ें एमपी : सीएम ने किया था अमेरिका से बेहतर सड़कों का दावा, 6 वर्ष पहले बना पुल टूटा

राजौरी जिले और पुंछ में रविवार को भारतीय जवानों को निशाना बनाने की कोशिश कर रहे दो पाकिस्तानी निशानेबाज भारतीय सेना की ओर से गोलीबारी में मारे गए थे। इस तरह गत दो दिनों में मारे गए पाकिस्तानी सैनिकों की संख्या पांच हो गई है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उल्लेखनीय है कि भारत ने 18 सितंबर, 2016 को उरी सेक्टर में सैन्य शिविर पर हुए आतंकवादी हमले के लगभग 10 दिनों बाद सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था, जिसमें भारत ने कई आतंकवादियों को मार गिराने का दावा किया था। उरी हमले में 19 भारतीय जवान शहीद हो गए थे।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top