प्रधानमंत्री ने गुजरात में किया अस्पताल का उद्घाटन, कहा- आयुष्मान भारत डिजिटल हेल्थ मिशन से मरीजों के लिए सुविधाएं और बढ़ेंगी

अस्पताल का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, गुजरात में दो दशक पहले नौ मेडिकल कॉलेज थे, अब यहां एक एम्स और तीन दर्जन से अधिक मेडिकल कॉलेज हैं।

प्रधानमंत्री ने गुजरात में किया अस्पताल का उद्घाटन, कहा- आयुष्मान भारत डिजिटल हेल्थ मिशन से मरीजों के लिए सुविधाएं और बढ़ेंगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार, 15 अप्रैल को गुजरात के भुज में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केके सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का उद्घाटन किया। 200 बेड वाला यह कच्छ क्षेत्र का पहला सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल है।

इस मौके पर पीएम ने कहा कि कच्छ के लोग अब अपने परिश्रम से इस क्षेत्र का नया भाग्य लिख रहे हैं। इस अस्पताल को लेवा पटेल समाज द्वारा बनाया गया है। ये कच्छ में पहला धर्मार्थ सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल है।

सैनिकों को मिलेगी उत्तम स्वास्थ्य सेवाएं

वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कच्छ वासियों को संबोधित करते हुए कहा, "इतना बड़ा आरोग्य कार्यक्रम करने के लिए कच्छ वासियों को बधाई। प्रधानमंत्री ने कहा कि कच्छ और भुज का इलाका भूकंप से मची तबाही को पीछे छोड़ते हुए भुज और कच्छ के लोग अपनी मेहनत से इस इलाके का नया भाग्य लिख रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये कच्छ का पहला 200 बेड का सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल है, जो कच्छ वासियों के साथ साथ सैनिकों और अर्धसैनिक बलों को भी उत्तम स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करेगा।

मरीजों को मिलेगी बेहतर सुविधाएं

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि मेडिकल एजुकेशन तक सबकी पहुंच बनाने के लिए देश के हर जिले में मेडिकल कॉलेज के निर्माण का लक्ष्य है, इससे आने वाले दस सालों में समाज में काफी परिवर्तन आएगा और रिकॉर्ड संख्या नए डॉक्टर हमारे देश को मिलेंगे। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना और जन औषधि योजना से हर साल गरीब परिवारों के लाखों बच रहे हैं। आयुष्मान हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के माध्यम से आधुनिक और क्रिटिकल हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर को जिला और ब्लॉक स्तर तक पहुंचाया जा रहा है। इलाज के खर्च की चिंता से गरीब को मुक्ति मिलती है तो वो निश्चिंत होकर गरीबी से बाहर निकलने के लिए परिश्रम करता है।

अस्पताल में मिलने वाली सुविधाएं

अस्पताल में इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी (कैथलैब), कार्डियोथोरेसिक सर्जरी, रेडिएशन ऑन्कोलॉजी, मेडिकल ऑन्कोलॉजी, सर्जिकल ऑन्कोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, न्यूक्लियर मेडिसिन, न्यूरो सर्जरी, जॉइंट रिप्लेसमेंट और प्रयोगशाला और रेडियोलॉजी जैसी अन्य सेवाएं प्रदान की जाएंगी।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.