Top

दागी नेताओं की सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट बने : सुप्रीम कोर्ट

दागी नेताओं की सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट बने : सुप्रीम कोर्टसुप्रीम कोर्ट।

नई दिल्ली। नेताओं पर आपराधिक मामलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट सख्त हो गया है। अदालत ने जनप्रतिनिधियों के खिलाफ मुकदमे निपटाने के लिए स्पेशल कोर्ट के गठन का आदेश दिया है। कोर्ट ने सरकार से कहा है कि स्पेशल कोर्ट बनाने के लिए फंड और संसाधनों की पूरी योजना दाखिल करे। इसके साथ ही कोर्ट ने टिप्पणी की है केंद्र एक ओर तो स्पेशल कोर्ट बनाने का बात करता है और दूसरी ओर कहता है कि यह राज्यों का मामला है। मामले की अगली सुनवाई अब 31 दिसंबर को होगी।

ये भी पढ़ें- सरदार वल्लभ भाई पटेल सिर्फ लौह पुरुष तक ही सिमट गए, उनके भीतर का किसान नेता किसी को याद नहीं

वहीं केंद्र सरकार ने कहा कि वह जनप्रतिधियों के खिलाफ आपराधिक मामलों की फास्टट्रैक सुनवाई के लिए स्पेशल कोर्ट बनाने के समर्थन में है। इन मामलों की सुनवाई कम से कम वक्त में पूरी होनी चाहिए। सजायाफ्ता जनप्रतिनिधियों के आजीवन चुनाव लड़ने पर रोक पर अभी विचार जारी है। वहीं सुनवाई के दौरान चुनाव आयोग ने याचिकाकर्ता की मांगों का समर्थन किया।

2014 से 2017 तक जनप्रतिनिधियों के खिलाफ कितने आपराधिक मामले दर्ज हुए। उनका क्या हुआ, कितने मामलों में सजा हुई, कितने मामलों में बरी हुए और कितने मामले लंबित हैं ये सब जानकारी कोर्ट को दी जाए।

ये भी पढ़ें- सर्वोच्च न्यायालय की निगरानी में पटेल नेता के अरोपों की जांच हो : आप

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.