बिहार सरकार ‘मिट्टी खरीद घोटाले’ की जांच सर्वदलीय समिति बनाकर कराये- सुशील  

बिहार सरकार ‘मिट्टी खरीद घोटाले’ की जांच सर्वदलीय समिति बनाकर कराये- सुशील  सुशील मोदी

नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने ‘मिट्टी खरीद घोटाले' की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अविलंब सर्वदलीय समिति बनाकर जांच कराये जाने की मांग की है। सुशील ने बुधवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सरकार को चुनौती दी कि वह उनके द्वारा इस मामले में उठाए गए सभी बिन्दुओं की सर्वदलीय समिति बनाकर जांच कराये। उन्होंने आरोप लगाया कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद के परिवार से जुड़े शॉपिंग मॉल का निर्माण उनकी ही पार्टी के एक विधायक द्वारा कराया जा रहा है। इसके लिए मिट्टी को बिना टेंडर के राजद से जुड़े नेता को 90 लाख में दे दिया गया ताकि राजद के मंत्री के विभाग में आपूर्ति की जा सके।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सुशील ने कहा कि जब राजद प्रमुख लालू यादव किसी भी जांच के लिए तैयार हैं तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अविलम्ब सर्वदलीय समिति बनाकर इस मामले की जांच करानी चाहिए। उन्होंने मांग की है कि मिट्टी घोटाले से जुड़े दस्तावेजों को तत्काल जब्त कर सील कर दिया जाए, क्योंकि बैक डेट में दस्तावेजों को छेड़छाड़ कर दुरुस्त किया जा रहा है। सुशील ने चुनौती दी कि उक्त निर्माणाधीन शॉपिंग मॉल और जैविक उद्यान की मिट्टी की जांच भी करा ली जाए, ताकि मालूम पड़ सके कि कहां की मिट्टी है।

टेंडर हुआ तो बताएं विज्ञापन

बिहार विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि सरकार बताये कि अगर टेंडर हुआ तो कब और किन-किन अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित किया गया। कौन कौन सी कंपनियों ने टेंडर में भाग लीं व किन किन लोगों की समिति थी जिसने टेंडर को स्वीकृति दी। उन्होंने आरोप लगाया कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद चारा, अलकतरा, दवा सहित अन्य घोटालों के बारे में वह शुरुआत में यह कहते रहे कि कुछ नहीं हुआ है। मगर जब उन घोटालों की जांच हुई तो स्वयं लालू प्रसाद, इलियास हुसैन सहित उनके मंत्रिमंडल के कई अन्य मंत्री को जेल जाना पड़ा था। उसी प्रकार मिट्टी खरीद घोटाले से भी लालू प्रसाद इंकार कर रहे हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top