#TeenTalaq: सुप्रीम कोर्ट ने कहा - अभी सिर्फ तीन तलाक़ पर होगी चर्चा

#TeenTalaq: सुप्रीम कोर्ट ने कहा - अभी सिर्फ तीन तलाक़ पर होगी चर्चाप्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्‍ली (भाषा)। तीन तलाक के मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज संविधान पीठ की सुनवाई चल रही है। उच्चतम न्यायालय ने आज कहा कि आगे बहुविवाह और निकाह हलाला की भी समीक्षा होगी। सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार का पक्ष रखा गया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

तीन तलाक केस में एटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने केंद्र सरकार की तरफ से सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की संवैधानिक पीठ के सामने अपना पक्ष रखा। इस रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट से निकाह, हलाला और बहुविवाह पर भी सुनवाई का आग्रह किया। कोर्ट ने कहा कि हमारे पास सीमित समय है, अागे इसकी समीक्षा होगी।

अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान तीन तलाक पर कहा कि शादी और तलाक किसी धर्म का पार्ट नहीं है। तीन तलाक़ केवल पुरुषों के लिए है, मुस्लिम महिलाओं के लिए नहीं।

कोर्ट ने केंद्र से सोमवार को अपना पक्ष रखने को कहा था। अभी तक कोर्ट में दलीलें रखने वाले सभी पक्षों ने एक साथ तीन तलाक बोलने की व्यवस्था को खत्म करने की पैरवी की है। सुप्रीम कोर्ट की पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ तीन तलाक की वैधानिकता पर विचार कर रही है। केंद्र ने न्यायालय से कहा कि यदि न्यायालय तीन तलाक को अवैध एवं असंवैधानिक करार देता है तो वह मुसलमानों में विवाह एवं तलाक के नियमन के लिए विधेयक लेकर आएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top