सेना पर सीधे हमले का दुस्साहस दिखा रहे आतंकी, आर्मी कैंपों को बना रहे निशाना

Mithilesh DubeyMithilesh Dubey   27 April 2017 12:15 PM GMT

सेना पर सीधे हमले का दुस्साहस दिखा रहे आतंकी, आर्मी कैंपों को बना रहे निशानाgaonconnection

लखनऊ। जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में आज सेना कैंप पर हुए हमले में सेना के तीन जवान शहीद हो गए। जवानों ने दो आतंकियों को तो मार गिराया लेकिन इससे भी इनकार नहीं किया जा सकता कि आतंकियों का दुस्स्हास बढ़ता जा रहा है। आतंकी अब सेना पर सीधा हमला कर रहे हैं। सेना के कैंप पर ये पहला आतंकी हमला नहीं है। हाल के कुछ महीनों में सेना के कैंप पर हुए हमलों पर एक नजर-

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: 30 आतंकियों ने डेढ़ मिनट के वीडियो में बताए अपने नापाक मंसूबे, वीडियो वायरल

पठानकोट

पिछले साल 2 जनवरी को भारी हथियारों से लैस आतंकियों ने पंजाब के पठानकोट में एयर फोर्स बेस कैंप पर हमला कर दिया। सेना के जवानों ने 6 आतंकियों को मार गिराया। चार दिन तक चले इस इनकांउटर में हमारे 7 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए।

पंपोर

2016 में ही 25 जून को कश्मीर के पंपोर में सीआरपीएफ के 8 जवान आतंकी हमले में शहीद हो गए और 21 जवान बुरी तरह घायल हो गए। आतंकियों ने जवानों को ले जारी वैन पर आत्मघाती हमला कर दिया था। हमले की जिम्मेदारी लश्कर तैयबा ने ली थी।

ये भी पढ़ें- कुपवाड़ा में सेना के कैंप पर आतंकी हमला, तीन जवान शहीद, दो दिन पहले ही आतंकियों ने जारी किया था वीडियो

उरी

पिछले साल का उरी हमला भला कौन भूल सकता है। 18 सितंबर को सीमा पार से आए हथियारों से लैस आतंकियों ने उरी में सेना के कैंप पर हमला बोल दिया। हमले में सेना के 19 जवान शहीद हो गए। चार घंटे तक चली मुठभेड़ में चार आतंकी मारे गए। इस हमले के 10 दिन बाद भारत ने पीओके में आतंकी अड्डों को नष्ट करने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक किया था।

बारामुला

3 अक्टूबर 2016 को बारामुला में आर्मी कैंप पर आतंकियों ने आत्मघाती हमला कर दिया। ये हमला सर्जिकल स्ट्राइक के कुछ दिन बाद ही किया गया। जवानों ने दो आतंकियों को तो मार गिराया लेकिन हमारा एक बीएसएफ का ऑफिसर शहीद हो गया जबकि कई अन्य जवान घायल हो गए। जैश-ए-मोहम्मद के वे आतंकी पाकिस्तानी नागरिक थे।

कुपवाड़ा

जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में कुछ आतंकियों ने 6 अक्टूबर को सेना के कैंप पर हमला कर दिया। सेना के जवानों ने तीन आतंकियों को मार गिराया था।

शोपियां

कुपवाड़ा हमले के ठीक दो दिन बाद यानी 8 अक्टूबर को कुछ आतंकियों ने शोपियां में सुरक्षाबल के कम्यूनिटी सेंटर पर हमला कर दिया। हमले में एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया जबकि कई अन्य लोगा घायल हो गए।

नागरोटा

29 नबवंर 2016 को जम्मू कश्मीर के नागरोटा जिले में आतंकियों ने सेना के कैंप पर भारी फायरिंग की। इस हमले में सेना के 2 जवान शहीद हो गए जबकि 2 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। सेना ने सर्चिंग अभियान छेड़ा तो सांभा जिले के पास तीन आतंकी मारे गए।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top