ठाणे सीडीआर घोटाला आरोप बेतुका : नवाजुद्दीन सिद्दीकी

ठाणे सीडीआर घोटाला आरोप बेतुका : नवाजुद्दीन सिद्दीकीनवाजुद्दीन सिद्दीकी

मुम्बई (भाषा)। अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी का नाम कल 'कॉल डिटेल रिकार्ड' (सीडीआर) घोटाले में आया लेकिन उन्होंने अपने खिलाफ किये गए दावों को खारिज करते हुए इसे 'बेतुका' करार दिया।

43 वर्षीय अभिनेता ने ट्वीट किया और घोटाले में उनकी संलिप्तता को लेकर उनसे तब सवाल करने के लिए मीडिया की आलोचना की जब वह अपनी पुत्री शोरा के साथ एक प्रदर्शनी में उसके स्कूल गए थे।

उन्होंने अपनी पुत्री के साथ प्रदर्शनी की कुछ तस्वीरों के साथ लिखा, ''कल शाम मैं अपनी पुत्री की 'हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर जेनरेटर' परियोजना तैयार करने में मदद कर रहा था और मैं आज सुबह परियोजना की प्रदर्शनी के लिए उसके स्कूल गया। मैं तब हैरान हो गया जब मीडिया ने मेरे ऊपर लगे बेतुके आरोपों को लेकर सवाल किये #डस्गिस्ट।''

ये भी पढ़ें- नीरव मोदी घोटाला अजूबा नहीं, परम्परा की कड़ी है

ठाणे पुलिस ने कल कहा था कि उन्होंने सीडीआर घोटाले की जांच को लेकर सिद्दीकी, उनकी पत्नी, अंजलि और एक वकील को सम्मन किया जो कि ठाणे में गत जनवरी में प्रकाश में आया था। पुलिस उपायुक्त (अपराध) अभिषेक त्रिमुखी ने मीडियाकर्मियों को बताया कि तीनों को तब बुलाया गया जब कुछ गिरफ्तार किये गए व्यक्तियों ने पुलिस को बताया कि एक वकील ने अभिनेता की पत्नी के सीडीआर निजी जासूसों से प्राप्त किया था।

ये भी पढ़ें- बैंककर्मियों के संगठन ने पीएनबी घोटाला मामले में की सरकार से हस्तक्षेप की मांग

सीडीआर रैकेट बीते 24 जनवरी को सामने आया था और एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने जिले के कलवा से चार निजी जासूसों को पकड़ा था। त्रिमुखी ने कहा कि तब से इस घोटाले में 11 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है जिसमें निजी व्यक्तियों के सीडीआर अवैध रूप से प्राप्त करने और बिक्री शामिल है।

ये भी पढ़ें- पीएनबी घोटाला : एसोचैम का सरकारी बैंकों के निजीकरण पर जोर

Share it
Share it
Share it
Top