आईपीएल में सट्टेबाजी करने वाले बड़े गिरोह का पर्दाफाश, सात अभियुक्त गिरफ्तार

आईपीएल में सट्टेबाजी करने वाले बड़े गिरोह का पर्दाफाश, सात अभियुक्त गिरफ्तारयूपी एसटीएफ ने मास्टरमाइंड रोहित व उसके सात सहयोगियों को नोएडा से गिरफ्तार किया।

लखनऊ। आईपीएल क्रिकेट मैच में ऑनलाइन जुआ और सट्टे का कारोबार करने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश करते हुए यूपी एसटीएफ ने गिरोह के मास्टरमाइंड रोहित समेत उसके सात सहयोगियों को नोएडा से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से 25 लाख रुपए नकद, तीन नोटबुक, 4 लैपटाप, 2 आईपैड, 19 मोबाइल फोन, डेटा कार्ड, 2 नेट कनेक्टर, 2 कैलकुलेटर और 2 टीवी सेट बरामद किया गया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस बारे में जानकारी देते हुए एसटीएफ के एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से एसटीएफ को प्रदेश के कई प्रमुख शहरों में आईपीएल क्रिकेट मैच पर आनलाइन जुआ और सट्टेबाजी करने वाले सक्रिय गिरोह की सूचना मिल रही थी। उन्होंने बताया कि इस सूचना के बाद एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक रशीद खान के नेतृत्व में इस गिरोह को पकड़ने की योजना बनाई गई। इस कड़ी में पता चला कि गौतमबुद्ध जिले के फेज टू में एक गिरोह सक्रिय होकर इसको अंजाम दे रहा है।

ऑनलाइन जुआ गिरोह के पास से जब्त किया गया लैपटाप व अन्य सामग्री।

इसके बाद इस गिरोह के मास्टरमाइंड अशोक गुप्ता को चिन्हित करते हुए उसके ठिकाने पर आने जाने वाले पर नजर रखी गई। पुलिस ने जब इस मामले में अपनी जानकारी पुख्ता कर ली तो एसटीएफ मुख्यालय से पुलिस उपाधीक्षक राजकुमार मिश्रा और इंस्पेक्टर विनय गुप्ता ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से शुक्रवार को नोएडा के सुपरटेक इमराल्ड अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर-1106 में छापेमारी की। वहां से गिरोह के मास्टर माइंड रोहित सहित सभी सात अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया।

मुख्य बुकी पिछले पांच साल से सक्रिय था सट्टे में

मुख्य बुकी रोहित गुप्ता ने पूछताछ में बताया कि बीकाम पास है। क्रिकेट मैच पर सट्टे के कारोबार को पिछले पांच साल से बुलंदशहर में चलाता था। डेढ़ साल पहले वह बुलंदशहर से नोएडा आ गया था। इसके बाद से वह दिल्ली के बड़े सट्टा कारोबारियों के रैकेट से जुड़‍कर आनलाइन सट्टे का रैकेट चलाने लगा। रोहित ने यह भी बताया कि वह betfair.com नाम की साइट पर जाकर सर्च करता और वहां खेल का जो रेट होता उसे लाइव- 25-30 पार्टियों पैसा लगावाता। बाद में हारजीत के अनुसार पैसे का आदान-प्रदान करता। एसटीएफ एसएसपी ने बताय कि सभी अभियुक्तों के खिलाफ गौतमबुद्ध नगर के फेज टू थाने में मामला दर्ज करके आगे की विधिक कार्यावाही की जा रही है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top