बॉम्बे हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस ने पत्रकार से पूछा, क्या जींस-टी शर्ट पहनना हमारा कल्चर है ?

बॉम्बे हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस ने पत्रकार से पूछा, क्या जींस-टी शर्ट पहनना हमारा कल्चर है ?बॉम्बे हाईकोर्ट ।

मुंबई। बॉम्बे हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस ने बीते बुधवार (29 मार्च) को पत्रकारों के ड्रेस कोड को लेकर नाखुशी जाहिर की और सवालिया निशान खड़े किए। चीफ जस्टिस ने कहा कि कोर्ट में क्या पत्रकारों को जींस-टी शर्ट में कोर्ट आना चाहिए?

ये भी पढ़ें- ‘‘क्योंकि बहनें कभी नहीं लड़तीं’’

चीफ जस्टिस मंजुला चेल्लूर ने पूछा कि क्या पत्रकारों का कोर्ट रूम में जींस-टी शर्ट पहना कोर्ट के डेकोरम के लिए सही है? बता दें कोर्ट में महाराष्ट्र में हुई डॉक्टरों की हड़ताल मामले को लेकर सुनवाई चल रही थी। इसी बीच कोर्ट रूम में पत्रकारों के ड्रेस कोड को लेकर पूछताछ हुई जिसमें कोर्ट यह जानना चाहता था कि क्या जीन्स-टी शर्ट कोर्ट रूम के लिए सही पहनावा है ?

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

चीफ जस्टिस ने सवाल करते हुए कहा- “क्या यही मुंबई का कल्चर है ?” वहीं सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने हड़ताल मामले में कोर्ट रूम में सिओन अस्पताल के वकील सुरेश पाकले से पूछा कि क्या इस ड्रेस कोड(जीन्स-टी शर्ट) पहनने की सराहना होनी चाहिए ? जिसके बाद पाकले ने “नहीं” का जवाब दिया। हालांकि कोर्ट ने पत्रकारों को कोर्ट रूम में रिपोर्टिंग के दौरान किसी तरह के ड्रेस कोड को लेकर कोई दिशा निर्देश नहीं दिए। बता दें कि ऐसा पहली बार हुआ है जब कोर्ट रूम में पत्रकारों के ड्रेस कोड को लेकर जज ने सवाल उठाए हों।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top