नहीं मिला मुलायम और अखिलेश के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का कोई ठोस सबूत: सीबीआई

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे अखिलेश यादव को आय से अधिक संपत्ति के मामले में सीबीआई ने अपनी ओर से क्लीन चिट दे दी है।

नहीं मिला मुलायम और अखिलेश के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का कोई ठोस सबूत: सीबीआई

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव और उनके बेटे अखिलेश यादव को आय से अधिक संपत्ति के मामले में सीबीआई ने अपनी ओर से क्लीन चिट दे दी है। सीबीआई की तरफ से इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया गया है, जिसमें मुलायम और अखिलेश के खिलाफ एक भी ठोस सबूत नहीं मिलने की बात कही गई है।

कांग्रेस सरकार में दर्ज हुआ था मामला

वर्ष 2005 में कांग्रेसी नेता विश्वनाथ चतुर्वेदी ने मुलायम उनके बेटे अखिलेश और बहू डिंपल यादव के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति की शिकायत की थी। विश्वनाथ चतुर्वेदी ने इस मामले पर पीआईएल दाखिल कर सीबीआई जांच की मांग की थी। इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 2007 में जांच के आदेश दे दिए थे। जिसके बाद 2019 में सुनवाई करते हुए सीबीआई से जल्द जांच की रिपोर्ट पेश करने को कहा था।

अखिलेश यादव पर अवैध खनन मामले में भी चल रही है जांच

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर यूपी में अवैध खनन मामले में घोटाले का भी मामला चल रहा है। जिसपर सीबीआई ने उनसे पूछताछ भी की थी। इस मामले में सीबीआई की शिकायत के बाद ईडी ने भी अखिलेश यादव पर केस दर्ज किया था।

ये भी पढ़ें-मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ईडी के समक्ष पेश हुए

क्या निकाले जा रहे हैं मायने

हाल में ही खत्म हुए लोकसभा चुनाव का 23 मई को परिणाम आने वाले हैं। काउंटिंग के 2 दिन पहले मुलायम और अखिलेश को आय से अधिक संपत्ति के मामले में क्लीन चिट मिलने पर राजनैतिक गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई है। राजनीतिक पंडित अब इस मामले में कई तरह की शंकाए जताए रहे हैं। काउंटिंग में परिणाम मन मुताबिक नहीं आने पर बीजेपी की ओर इस मामले का जोड़ तोड़ में उपयोग करने की भी शंकाए जताई जा रही है।

(भाषा से इनपूट)

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top