कामकाजी गर्भवती महिलाओं के लिए बनाया गया ये वीडियो हर किसी को देखना चाहिए

Arvind ShuklaArvind Shukla   11 April 2018 1:45 PM GMT

कामकाजी गर्भवती महिलाओं के लिए बनाया गया ये वीडियो  हर किसी को देखना चाहिएप्रतीकात्मक तस्वीर

भारत में काम करने वाले महिलाओं की संख्या में पिछले कुछ सालों में काफी इज़ाफा हुआ है। लेकिन कार्यस्थल पर अभी भी उन्हें वो माहौल नहीं मिल पाता जिसमें वो पूरी तरह से सुरक्षित और सुविधाजनक महसूस कर सकें। गर्भवती महिलाओं के लिए तो स्थिति और भी खराब है।

हालांकि कुछ संस्थान ऐसे हैं जिनमें महिलाओं की सुविधा और सुरक्षा का अधिक ध्यान रखा जाता है लेकिन फिर भी इस दिशा में अभी और भी बहुत कुछ करने की ज़रूरत है। खासकर गर्भवती महिलाओं के लिए। गर्भवती महिलाओं को सिर्फ काम करने के दौरान ही रोज़ के तनाव से नहीं गुज़रना होता। उनके शरीर में प्रेग्नेंसी के कारण जो बदलाव हो रहे होते हैं मानसिक और शारीरिक तौर पर उन्हें हर वक्त उन्हें भी झेलना होता है। हर पल होने वाले पीठ के दर्द से लेकर शरीर पर आने वाली सूजन तक को उन्हें सहना होता है। गर्भवस्था में काम करना वाकई मुश्किल भरा होता है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

शायद इसीलिए एक शोध में यह बात सामने आई थी कि गर्भवती होने के बाद कई महिलाएं नौकरी छोड़ देती हैं। 2015 में आई बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, दिल्ली में हुए एक शोध में यह बात सामने आई कि सिर्फ 18-34 प्रतिशत महिाएं ही गर्भवती होने के बाद घर से बाहर निकलकर काम करती हैं। लेकिन कार्यस्थल गर्भवती महिलाओं के लिए ऐसा माहौल ज़रूर बना सकते हैं जहां वो आरामदायक महसूस करें और जिंदगी के इस दौर को तनाव के साथ नहीं बल्कि खुशियों के साथ बिता सकें।

इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए योर सेकेंड होम ने प्रेगा न्यूज़ के साथ मिलकर एक वीडियो बनाया है। जो योर सेकेंड होम की कैंपेन का हिस्सा है। यह ऐसा वीडियो है जिसे देखकर यक़नीन आपकी आंखों में आंसू आ जाएंगे और एक बार तो मन में यह ख्याल ज़रूर आएगा कि महिलाओं को गर्भवस्था में वाकई इसी तरह के माहौल की ज़रूरत है। इस वीडियो के साथ प्रेगा न्यूज़ ने सशक्त संदेश भी दिया है, जो हमें गर्भवती महिलाओं के प्रति सहानुभूति और उनकी देखभाल करने के बारे में काफी कुछ बताता है।

आपको भी एक बार ये वीडियो ज़रूर देखना चाहिए -

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top