बाबरी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट आज कर सकती है आडवाणी समेत 13 भाजपा नेताओं की किस्मत का फैसला

बाबरी मस्जिद मामलाः सुप्रीम कोर्ट आज कर सकती है आडवाणी समेत 13 भाजपा नेताओं की किस्मत का फैसलाभाजपा नेताओं का आज हो सकता है फैसला।

लखनऊ। बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती के साथ वरिष्ठ भाजपा नेताओं के खिलाफ षड्यंत्र के आरोपों की बहाली की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला आज सुना सकता है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

न्यायमूर्ति पीसी घोष और न्यायमूर्ति आरएफ नरीमन की पीठ फैसला सुना सकती है। आप को बता दें कि 6 दिसंबर, 1992 को विवादित ढांचे को गिराने से संबंधित दो मामले हैं। पहला अज्ञात कारसेवकों से जुड़ा है जिसकी सुनवाई लखनऊ की एक अदालत में चल रही है, वहीं दूसरा रायबरेली की एक अदालत में वीवीआईपी लोगों से जुड़े मामले का है। पीठ ने 6 अप्रैल को संकेत दिया था कि वह रायबरेली से मामले को लखनऊ की अदालत में स्थानांतरित करके मामलों के दो सेटों की संयुक्त सुनवाई का आदेश दे सकती है।

अदालत ने इससे पहले भाजपा के इन 13 नेताओं पर लगे आरोपों को हटाने के खिलाफ अपील का अध्ययन करने का फैसला किया था। दोनों प्राथमिकियों को मिलाने का आरोपियों के वकील ने इस आधार पर विरोध किया था कि दोनों मामलों में आरोपी के तौर पर कई लोग हैं, जिनमें सुनवाई दो अलग अलग जगहों पर चल रही है। उनके मुताबिक संयुक्त सुनवाई नए सिरे से शुरू होनी चाहिए।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top