Top

सकारात्मक सोच के लिए कैदियों को दे रहे ‘सुदर्शन क्रिया’ का प्रशिक्षण

सकारात्मक सोच के लिए कैदियों को दे  रहे ‘सुदर्शन क्रिया’  का प्रशिक्षणजिला कारागार शाहजहांपुर में सुदर्शन क्रिया का अभ्यास करते कैदी।

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

शाहजहाँपुर। आर्ट ऑफ लिविंग के तत्वावधान में जिला कारागार शाहजहांपुर में कैदियों के लिए छह दिवसीय ध्यान का प्रशिक्षण कराया जा रहा है। इस प्रशिक्षण में कैदियों को सुदर्शन क्रिया और प्राणायाम के महत्व को समझाते हुए तनाव मुक्त जीवन जीने के बारे में बताया गया। यह प्रशिक्षण डॉ. अरुण कुमार सिंह प्रशिक्षक व पंकज पांडे द्वारा किया गया। प्रशिक्षक डॉ. अरुण कुमार सिंह ने बताया, “प्रशिक्षण का मुख्य उद्देश्य कैदियों को तनावमुक्त रखना और उनमें सकारात्मक सोच पैदा करना है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

कैदियों को रोज सुदर्शन क्रिया योग आसन, प्रणायाम तथा ध्यान कराया जाएगा।” प्रशिक्षक पंकज पांडे ने बताया कि “सुदर्शन क्रिया का शाब्दिक अर्थ देखें तो सू का अर्थ है अच्छा या सही, दर्शन का अर्थ है साक्षात्कार या झलक और क्रिया एक ऐसा अभ्यास है जो शुद्धि प्रदान करता है।

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के 40 जिलों में बनेंगे ‘योग वेलनेस सेंटर’

इस क्रिया का अभ्यास हमारे शरीर मन और आत्मा में एक लय और समन्वय स्थापित करने में सहायता करता है।“ जेल के अधिकारियों ने भी उत्साह के साथ शिक्षण में प्रतिभाग किया। शिक्षण के अंतिम दिन आर्ट आफ लिविंग परिवार के सदस्यों ने भी सहयोग किया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.