जीएसटी को लेकर पूरे देश में 9 और 10 अक्टूबर को ट्रांसपोटर्स का चक्काजाम 

जीएसटी को लेकर पूरे देश में 9 और 10 अक्टूबर को ट्रांसपोटर्स का चक्काजाम प्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। निजी बस-ट्रक मालिकों के संगठन ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) का सरलीकरण, डीजल के दामों में समानता और भ्रष्टाचार खत्म करने की मांग को लेकर अगले सप्ताह नौ और दस अक्टूबर को देशव्यापी चक्काजाम की घोषणा की है।

ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के अध्यक्ष एसके मित्तल और प्रमुख कुलभूषण सिंह अटवाल तथा ऑल इंडिया ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप सिंघल ने बुधवार को कहा कि ट्रांसपोर्ट संगठन पिछले तीन महीने से सरकार के विभिन्न विभागों के संपर्क में हैं और अपने समस्याओं के समाधान की मांग रख रहे हैं, लेकिन सरकार के पास मौजूदा जीएसटी प्रणाली में इनका कोई हल नहीं है।

यह भी पढ़ें- आरबीआई ने विकास दर अनुमान घटाकर 6.7 प्रतिशत किया

मित्तल ने कहा कि नौकरशाही के रवैये से थककर ट्रांसपोर्ट संगठनों ने अगले सप्ताह सोमवार और मंगलवार को देशभर में चक्काजाम करने का फैसला किया है। इस दिन सभी वाणिज्यिक वाहन नहीं चलेगें और ट्रांसपोर्ट केंद्रों पर कोई कामकाज नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि त्योहारी मौसम को देखते हुए संगठन ने केवल दो दिन की सांकेतिक हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। अगर सरकार ने ट्रांसपोर्ट संगठनों की मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया तो दिवाली के बाद सभी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे।

यह भी पढ़ें- बिना जीएसटी रजिस्ट्रेशन के दुकानदार नहीं ले सकता है आपसे टैक्स

उन्होंने कहा कि ट्रांसपोर्ट कारोबारियों को कर का भुगतान करने में कोई परेशानी नहीं है। सरकार ने खुद माना है कि 95 प्रतिशत कारोबारी कर भुगतान करते हैं। लेकिन सरकार को कर भुगतान की प्रणाली आसान बनानी चाहिए और कोई ऐसा तरीका अपनाना चाहिए, जिससे सभी लोग बिना किसी अड़चन के करों का भुगतान कर सकें।

खेती और रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मशीनों और जुगाड़ के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Share it
Top