Top

छत्तीसगढ़ में बिक रहा यूपी का धान, बिचौलिए हुए सक्रिय

दाम अधिक होने के कारण छतीसगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र के किसान दलालों के माध्यम से नजदीकी क्रय केंद्र पर जाकर धान का बेच रहे हैं

Bheem kumarBheem kumar   21 Dec 2018 9:13 AM GMT

छत्तीसगढ़ में बिक रहा यूपी का धान, बिचौलिए हुए सक्रिय

सोनभद्र/दुद्धी। इन दिनों छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे यूपी के किसान काफी खुश नजर आ रहे हैं, क्योंकि यूपी में योगी सरकार ने धान का समर्थन मूल्य 1750 रुपये प्रति कुन्तल निर्धारित किया है, वहीं छत्तीसगढ़ में 2500 रुपये प्रति कुंतल के दर से धान क्रय हो रहा है। दाम अधिक होने के कारण छतीसगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र के किसान दलालों के माध्यम से नजदीकी क्रय केंद्र पर जाकर धान का बेच रहे हैं।

छत्तीसगढ़ से सटे उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के किसान और व्यापारियों की नजर इस समय छत्तीसगढ़ के धान क्रय केंद्रों पर टिकी हुई है। स्थानीय दलाल धान खरीदकर छत्तीसगढ़ में जाकर बेचने के जुगाड़ में लगे हुए है। हालांकि यूपी का धान छत्तीसगढ़ न जाए इसे लेकर सरकार हर प्रयास कर रही है। कई दलाल यूपी के किसानों का धान खरीद कर छत्तीसगढ़ में क्रय केंद्रों पर सांठ गांठ कर धान बेच रहे हैं।

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: सरकारी धान क्रय केंद्रों पर सन्नाटा, प्रति कुंतल 300 से 400 रुपए का घाटा उठा रहे किसान


सीमावर्ती किसान ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया, " हमारे यहां से बॉर्डर नजदीक है। यहां से यूपी का धान आसानी से छत्तीसगढ़ जाकर बेच सकेंगे। छत्तीसगढ़ में इसी धान की कीमत 8 रुपये प्रति कुंतल अधिक मिलेगा। आठ कुंतल धान मैंने 2100 रुपये कुंतल के हिसाब से दलाल को बेचा है।"

कृषि मंडी के धान क्रय केंद्र प्रभारी दशरथ कुमार ने बताया, " हमारे यहां ए ग्रेड का धान 1770 प्रति कुन्तल के दर से लिया जा रहा है और थोड़े कमजोर धान को 1750 प्रति कुन्तल के दर से खरीदा जा रहा है। हमारे यहां धान की खरीददारी चल रही है। "

ये भी पढ़ें: 'गेहूं क्रय केंद्रों पर टोकन व्यवस्था कड़ाई से कराई जाए लागू'

छतीसगढ़ के रामानुजगंज के एसडीएम आरएसलाल ने बताया, " हमारे यहां क्रय केंद्रों पर 25 रुपये किलो की दर से धान की खरीदारी हो रही है। सभी धान क्रय केंद्रों पर सूचना चस्पा किया गया है। हमारी व्यवस्था मुस्तैद है किसी भी बाहरी दलालों के धान नहीं खरीदा जाएगा। पैनी नजर रखा जा रहा है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.