प्रदेश में पहली बार त्वचा रोगियों को ‘टेली-डर्मिटोलॉजी ‘ की सुविधा

प्रदेश में पहली बार  त्वचा रोगियों को  ‘टेली-डर्मिटोलॉजी ‘ की सुविधा‘टेली-डर्मिटोलॉजी ‘ योजना की शुरुआत।

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर स्थित डा. राम मनोहर लोहिया चिकित्सालय में चर्म रोगियों की सुविधा के लिए जल्द ही 'टेली-डर्मिटोलॉजी ' योजना शुरु की जाएगी।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि अभी तक प्रदेश के किसी भी सरकारी अस्पताल में 'टेली-डर्मिटोलॉजी ' की सुविधा उपलब्ध नहीं है। वर्तमान में प्रदेश के सरकारी चिकित्सालयों में चर्म रोग विशेषज्ञों की भारी कमी है। इस समस्या को देखते हुए प्रदेश में सबसे पहले लोहिया अस्पताल के त्वचा रोग विभाग में 'टेली-डर्मिटोलॉजी ' की सुविधा उपलब्ध कराये जाने का निर्णय लिया गया है।

ये भी पढ़ें: बीमारी के खर्च की वजह से भोजन व शिक्षा खर्च में करनी पड़ रही कटौती

सिंह ने बताया कि त्वचा रोगियों की सुविधा के लिए टेली-डर्मिटोलॉजी प्रक्रिया को बेहद आसान बनाया गया है। साथ ही मरीजों की गोपनीयता का भी पूरा ख्याल रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि रोगी अपने मोबाइल फोन पर गूगल-एप के जरिए अथवा चिकित्सालय की वेबसाइट का इस्तेमाल कर टेली-डर्मिटोलाजी सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकेंगे। रोगियों को अपनी त्वचा संबंधी बीमारी के लक्षण एवं जिस भाग में समस्या है, उसकी फोटो गूगल-एप अथवा वेबसाइट पर अपलोड करनी होगी। इसके उपरान्त रोगी को उनके मोबाइल पर एक आईडी नम्बर दिया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि चिकित्सक द्वारा लक्षण एवं फोटो के आधार पर उपचार संबंधित सलाह रोगी के मोबाइल तथा आईडी पर भेज दी जाएगी, जिसमें डॉक्टर की पर्ची भी शामिल होगी। आवश्यकता पड़ने पर विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा मरीज को चिकित्सालय भी बुलाया जा सकता है। प्रदेश में पहली बार लोहिया अस्पताल में प्रारम्भ की जा रही इस योजना की सफलता के उपरान्त अन्य चिकित्सालयों को भी इससे जोड़ा जाएगा।

Share it
Share it
Share it
Top