रेलवे में खाली हैं दो लाख से भी अधिक पद, अगर ये भर जाएं तो शायद न हों ऐसे हादसे 

रेलवे में खाली हैं दो लाख से भी अधिक पद, अगर ये भर जाएं तो शायद न हों ऐसे हादसे भारतीय रेलवे 

भारतीय रेलवे लगातार हादसे बढ़ रहें जिनका ज्यादातर हादसों का कारण मानव रहित रेलवे क्रासिंग होती हैं। इतने हादसों के बाद भी रेलवे में लगभग ढाई लाख पद खाली हैं।

रेल दुर्घटनाओं से बचने के लिए अब मानवरहित रेलवे क्रासिंग पर होमगार्ड तैनात होंगे। रेलवे विभाग ने इस बाबत होमगार्ड विभाग को होमगार्डों को तैनात करने को कहा। इसी के तहत होमगार्ड विभाग ने 11 जिलों की 143 मानवरहित रेलवे क्रासिंग पर होमगार्डो को तैनात करने का फैसला किया है।

ये भी पढ़ें - क्या आपके बच्चे की स्कूल वैन कर रही है इन नियमों का पालन

होमगार्ड विभाग के केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थान लखनऊ के कमांडेट संजीव कुमार शुक्ल ने बताया, "रेलवे विभाग द्वारा प्रदेश के 11 जिलों में मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर होमगार्ड के जवानों को लगाये जाने को कहा था। यह जिले अंबेडकरनगर, फैजाबाद, इलाहाबाद, प्रतापगढ़, रायबरेली, सुल्तानपुर, जौनपुर, अमेठी, बाराबंकी, उन्नाव और लखनऊ है।" संजीव आगे बताते हैं, "रेलवे विभाग के 143 मानव रहित क्रासिंग में आठ-आठ घंटे की तीन शिफ्ट में 429 होमगार्डों की तैनाती की जा रही है। इस बाबत सभी जिलों के होमगार्ड विभाग को निर्देश दे दिये गये है कि वह अपने अपने जिलों में तैनाती के लिये होमगार्डों का चयन कर लें।"

ये भी पढ़ें- हादसा नहीं, हत्या: हेडफ़ोन लगाये था ड्राईवर, कानून तोड़ती स्कूल वैन ट्रेन से कुचली, यूपी केे कुशीनगर में 13 बच्चों की मौत

केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे में नॉन गैजेटेड पदों के 2 लाख 40 हजार पदों पर वैकेंसी है, ये भर्तियां योग्य उम्मीदवारों के लिए अधिसूचित कर ली गई है। ऑल इंडिया रेडियो ने रेलमंत्री पीयूष गोयल के हवाले से ट्वीट कर कहा कि 'रेलवे में 2 लाख 40 हजार नॉन गैजेटेड पद खाली पड़े हुए हैं। ये पद योग्य उम्मीदवारों के लिए अधिसूचित कर लिए गए हैं।'

Share it
Top