खुद को फंसता देख BHU के कुलपति चले गए छुट्टी पर

खुद को फंसता देख BHU के कुलपति चले गए छुट्टी परखुद को फंसता देख BHU के कुलपति चले गए छुट्टी पर

वाराणसी। बीएचयू प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच शुरू हो चुकी है। जिला प्रशासन की रिपोर्ट के बाद प्रदेश और केंद्र सरकार की ओर भी जांच-पड़ताल जारी है। इसी बीच खुद को इस प्रकरण में घिरे देखकर सोमवार को कुलपति प्रो. जीसी त्रिपाठी निजी कारणों का हवाला देकर छुट्टी पर चले गए।

उधर, दशहरा का अवकाश खत्म होने के बाद मंगलवार से बीएचयू परिसर में कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। इस कारण लोकल इंटेलीजेंस ब्यूरो कैंपस के माहौल पर नजर रखे हैं तो बीएचयू ने भी अपने खुफिया विभाग को सतर्क कर दिया है। हालांकि दो दिन पहले वीसी ने कहा था कि अगर मुझे छुट्टी पर जाने को कहा जाएगा तो खुद इस्तीफा दे दूंगा।

ये भी पढ़ें : BHU : आखिर किसने दिया छात्राओं पर लाठीचार्ज का आदेश !

सूत्रों के अनुसार सोमवार को प्रदेश सरकार के अपर मुख्य सचिव व कृषि उत्पाद आयुक्त राम प्रताप सिंह ने त्रिवेणी संकुल में छात्राओं से बात की। छात्राओं ने उन्हें अपनी समस्याओं के बारे में बताया। हालांकि त्रिवेणी संकुल में छात्राओं से बातचीत इतनी गोपनीय हुई कि चीफ प्राक्टर रोयाना सिंह को इसकी सूचना नहीं मिली। फिलहाल परिसर खुलने को लेकर विवि के अधिकारियों की धुकधुकी बढ़ गई है।

ये भी पढ़ें : गांव कनेक्शन विशेष : बीएचयू की कहानी 4 लड़कियों की ज़बानी , सुनिए ऑडियो

चीफ प्राक्टर ने दावा किया है कि कैंपस की व्यवस्था चाक चौबंद है। सीसी कैमरा तथा प्लड लाइटों को दुरुस्त किया जा चुका है। प्रमुख सड़कों पर बैरिकेडिंग का कार्य भी अंतिम चरण में है। परिसर में सायं-मध्य रात्रि व भोर में गश्त शुरू हो गई है। सायं 5.30 बजे चीफ प्राक्टर प्रो. रोयाना सिंह ने सुरक्षाकर्मियों संग हास्टल लाइन का जायजा लिया।

ये भी देखें :

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top