अयोध्या LIVE: उद्धव ठाकरे ने कहा- मंदिर नहीं बना तो ये सरकार भी नहीं बनेगी

Ranvijay SinghRanvijay Singh   25 Nov 2018 5:34 AM GMT

yodhya, vhp, rss, shiv sena, dharm sabha liveudhav thakrey in ayodhya (Photo- ANI)

अयोध्‍या। राम मंदिर के मुद्दे पर अयोध्या पहुंचे हुए शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि मोदी सरकार को राम मंदिर के लिए अध्यादेश लेकर आना चाहिए, शिवसेना उनका साथ देगी। ठाकरे ने कहा कि आज की सरकार बहुत ज्यादा मजबूत है तब भी राम मंदिर का निर्माण क्यों नहीं हो रहा है। मंदिर अब नहीं बनेगा तब कब बनेगा।

रविवार को राम लला के दर्शन के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कहते हैं कि मंदिर है, था और रहेगा तो मंदिर दिख क्यों नहीं रहा है। मंदिर हर हाल में बनना चाहिए। उद्धव ठाकरे ने कहा कि मेरी अयोध्या यात्रा सफल रही, साधु-संतों ने मुझे आशीर्वाद दिया है। हिंदू ताकतवार है, मार नहीं खाएगा। उन्होंने आगे कहा कि यहां आने का उनका कोई हिडेन एजेंडा नहीं है।

उद्धव ठाकरे ने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कि अगर मंदिर नहीं बना सकते हो तो कह दो कि हमसे नहीं हो पाएगा। मंदिर नहीं बना तो ये सरकार भी नहीं बनेगी।

राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर विश्‍व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने अयोध्‍या में रविवार को धर्म सभा बुलाई है। इस धर्म सभा में करीब एक लाख लोगों के आने का अनुमान है। धर्म सभा में संघ, शिवसेना समेत कई हिन्‍दूवादी संगठन शामिल हो रहे हैं, जिनके कार्यकर्ताओं ने अयोध्‍या से लेकर फैजाबाद तक में डेरा जमा लिया है।

धर्म सभा की व्‍यवस्‍था का संचालन कर रहे वीएचपी के प्रवक्‍ता शरद शर्मा बताते हैं कि, ''धर्म सभा में शामिला होने के लिए कई राज्‍यों से राम भक्‍त आ रहे हैं। करीब 50 हजार लोग शनिवार की सुबह तक शहर में आ गए हैं। इतने ही अलग-अलग जिलों से रविवार को पहुंचेंगे।''

इससे पहले शनिवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी अयोध्‍या पहुंचे। उन्‍होंने यहां एक सभा को संबोध‍ित किया और सरयू नदी में पूजा पाठ भी किया। उद्धव के इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए महाराष्ट्र से श‍िवसैनिक अयोध्‍या पहुंचे थे। इनमें से करीब आधे श‍िवसैनिक वीएचपी की धर्म सभा में भी शामिल हुए।

धर्म सभा के मद्देनजर प्रशासन भी पूरी तहर से मुस्‍तैद है। इतनी ज्‍यादा लोगों के एक साथ शहर में आने से प्रशासन के हाथ पांव फूल गए हैं। फिलहाल हनुमानगढ़ी को जाने वाले हर रास्‍ते पर बैरिकेड लगा दिए गए हैं। वहीं, चार पहिया वाहनों का शहर में प्रवेश भी रोक दिया गया है।

महाराष्‍ट्र लौटने लगे शिवसैनिक

वहीं शनिवार को उद्धव की रैली खत्‍म होते ही शिवसैनिक अयोध्‍या से लौटने लगे हैं। शनिवार की रात को स्‍पेशल ट्रेन से करीब दो हजार श‍िवसैनिक नासिक और महाराष्‍ट्र के अन्‍य जिलो को लौट गए। इन श‍िवसैन‍िकों का कहना था कि उनकी इस रैली से सरकार पर दबाव बनाया है। इससे सरकार मंदिर बनाने के लिए प्रयास करेगी।


उद्धव बोले, सोए कुंभकरण को जगाने अाया

इससे पहले शनिवार को अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं। मैं तो सोए कुंभकरण को जगाने आया हूं। आगे उन्होंने कहा कि उद्घव ठाकरे ने कहा कि राममंदिर निर्माण को लेकर एक लंबे समय से वादा किया जा रहा है लेकिन न कानून लाया जा रहा है और न ही सरकार कुछ करती दिखाई दे रही है। हर कोई चाहता है कि राममंदिर बने। हम सब मिलकर बनाएंगे तो मंदिर जल्दी बन जाएगा। ठाकरे ने कहा कि पहले अटल जी की केंद्र में सरकार थी। मिली जुली सरकार में राममंदिर को लेकर कानून बनाना एक कठिन काम हो सकता है। पर अब तो केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार है।


ठाकरे ने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार है। अब राममंदिर निर्माण हो ही जाना चाहिए। ठाकरे ने कहा कि मैं वचन देता हूं कि राममंदिर बनेगा तो मैं रामभक्त बनकर रामलला के दर्शन करने आऊंगा। लक्ष्मण किला मैदान में आयोजित आशीर्वाद सभा में उद्घव ठाकरे अपने परिवार सहित पहुंचे और गणेश पूजन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। सभा में संतों के साथ बड़ी संख्या में शिवसैनिक मौजूद रहे। उद्घव ठाकरे के अयोध्या पहुंचते ही नगर को पूरी तरह सील कर दिया गया। मुख्य मार्ग पर बैरीकेडिंग कर दी गई। दूसरी सड़कों से लोगों को मोड़ा जा रहा है। मुख्य सड़क प्रतिबंधित होने से आम लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।


मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी की आवास की सुरक्षा बढ़ा गई

इस बीच अयोध्या में मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी की आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। घर के दोनों तरफ आरएएफ की कंपनी तैनात कर दी गई साथ ही सिविल पुलिस को भी तैनात कर दिया गया है। शिवसेना के कार्यक्रम को लेकर कुछ लोगों ने विरोध जताया है। महाराष्ट्र में यूपी और बिहार के लोगों के साथ हो रहे अत्याचार को लेकर लोग सड़कों पर उतर आए। कुछ सामाजिक संगठन के कार्यकर्ताओं ने उद्घव ठाकरे का पुतला फूंका।

खौफज़दा हैं मुसलमान- जफरयाब जीलानी

ऑल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वरिष्ठ सदस्य और अधिवक्ता जफरयाब जीलानी ने अयोध्या में विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) द्वारा आयोजित 'धर्म सभा' को बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की रणनीति का हिस्सा करार देते हुए दावा किया कि अयोध्या के मौजूदा हालात के मद्देनजर वहां के मुसलमान खौफज़दा हैं. जीलानी ने कहा कि अयोध्या के मुसलमान पिछले करीब एक हफ्ते से खौफजदा हैं. जो लोग खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, उनसे हमने कहा है कि वे लखनऊ जाएं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने देखा प्रेजेंटेशन, 221 मीटर ऊंची प्रतिमा पर बनी सहमति

भगवान राम की मूर्ति

विश्व हिंदू परिषद की प्रस्तावित धर्मसभा में राम मंदिर निर्माण की तारीख पर संतों के मंथन के पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राम मूर्ति पर अंतिम मंथन शुरू कर दिया है। योगी की अगुवाई में हुए प्रेजेंटेशन में तय किया गया है कि अयोध्या में भगवान राम की 221 मीटर ऊंची प्रतिमा लगाई जाएगी। दुनिया की यह सबसे ऊंची प्रतिमा होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को मध्य प्रदेश के चुनावी दौरे पर थे। आधा दर्जन जनसभाओं को संबोधित करने के बाद योगी देर शाम लखनऊ पहुंचे। इसके बाद 5, कालिदास स्थित अपने आवास पर उन्होंने नव्य अयोध्या प्रॉजेक्ट के तहत लगने वाली भगवान राम की प्रतिमा का प्रेजेंटेशन देखा। कुल 5 आर्किटेक्चर फर्मों ने अपनी कार्ययोजना रखी।

ये भी देंखे- वीडियो में देखिए आखिर क्या है अयोध्या का क्या है पूरा विवाद..

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top