कई प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं से ज्यादा तेजी से वृद्धि कर रहा है भारत: चौहान

कई प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं से ज्यादा तेजी से वृद्धि कर रहा है भारत: चौहानशिवराज सिंह चौहान 

वाशिंगटन (भाषा)। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने माना कि भारत कई बड़ी अर्थव्यवस्थाओं से ज्यादा तेजी से वृद्धि कर रहा है और यह जल्द ही चीन को पीछे छोड देगा। चौहान इन दिनों अमेरिका की यात्रा पर हैं। यहां कारोबारी समुदाय के साथ बातचीत में चौहान ने केंद्र सरकार के नोटबंदी और जीएसटी जैसे फैसलों की सराहना की।

उन्होंने कहा, ''प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत कई बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के मुकाबले तेजी से वृद्धि कर रहा है। हम जल्द ही चीन की अर्थव्यवस्था को पीछे छोड़ देंगे।'' चौहान ने अमेरिका के कारोबारियों और कारपोरेटों के साथ कई दौर की बैठक कर उन्हें अपने राज्य में निवेश के लिए आमंत्रित किया है।

ये भी पढ़ें - कठिन सुधारों के बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर, सही दिशा में बढ़ रही है : मोदी

अमेरिका-इंडिया स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप फोरम और भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) द्वारा आयोजित एक बैठक में कहा, ''हमारी नई औद्योगिक नीति आपके निवेश को प्रोत्साहन देने पर आधारित है। यह देश को आय करने और रोजगार अवसर उपलब्ध कराने के काम आएगी। यह अपनी तरह की पहली नीति है और माल एवं सेवाकर (जीएसटी) के बाद देश में कोई और राज्य ऐसी नीति लेकर नहीं आया है।''

ये भी पढ़ें - देश की अर्थव्यवस्था को कमजोर करना चाहती हैं भारत-विरोधी ताकतें : राजनाथ सिंह

चौहान ने कहा कि अगले तीन साल में मध्यप्रदेश में कोई भी व्यक्ति बिना मकान वाला नहीं होगा। किसानों की आय को दोगुना करना उनकी शीर्ष प्राथमिकता है। कृषि में हमारी वृद्धि दर दोहरे अंक में है इसलिए किसानों की आय भी दोगुना होनी चाहिए। अमेरिका और भारत के संबंधों के बारे में उन्होंने कहा कि दोनों देश दुनिया की सबसे बडी अर्थव्यवस्था है और दोनों के संबंधों का यह स्वर्णिम काल है।

चौहान ने अगले साल चार और पांच जनवरी को मध्यप्रदेश के मित्र शिखर सम्मेलन आयोजित करने की भी घोषणा की है। चौहान ने यहां न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय के ब्रुकलिन परिसर में एक नवोन्मेष एवं उद्यमिता इंक्यूबेशन सेंटर का दौरा किया। बाद में उन्होंने ऐसा ही केंद्र मध्य प्रदेश में स्थापित करने की इच्छा जतायी।

ये भी पढ़ें - संरक्षणवाद, आटामेशन से विश्व अर्थव्यवस्था को खतरा नहीं: अरविंद पनगढ़िया

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.