देश

जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों से निकलने के लिए जल संरक्षण करें : एफएओ    

मुंबई (भाषा)। संयुक्त राष्ट्र खाद्य एवं कृषि संगठन एफएओ में भारत के प्रतिनिधि श्याम खडका ने कहा है कि भारत में यदि जल प्रबंधन गंभीरता से किया जाए तो देश जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने के साथ कृषि उत्पादन बढाने में समर्थ है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

खड़का ने सीआईआई के सम्मेलन में कहा, भारत के लिए अच्छी खबर यह है कि उसके पास पूर्णतया विकसित कृषि प्रणाली है। इसके अलावा यहां कई कृषि विश्वविद्यालय हैं और निजी कंपनियां भी खेती में शोध की ओर बढ़ रही हैं। वर्ष 1960 से इसके कारण अच्छे परिणाम सामने आये हैं जिसके कारण खाद्य उत्पादन अब पांच गुना बढ़ गया है। इस बात को स्वीकार करते हुए कि कई कृषि जलवायु परिस्थितियों में जलवायु परिवर्तन से खेती की को चुनौती मिलती है, खडका ने कहा कि देश ने फसलों में बदलाव के मामले में पहल की जरुरतों की पहचान की है।

उन्होंने कहा कि अधिक पानी की खपत करने वाले गन्ने की खेती पानी की कमी वाले राज्य महाराष्ट्र के लिए उपयुक्त नहीं है ऐसी फसलों को आदर्श रुप में गंगा क्षेत्र बिहार और ब्रह्मपुत्र नदी से सिंचित असम जैसी जगहों पर ले जाया जाना चाहिए।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।