पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव : हिंसा की घटनाओं के बीच मतदान जारी

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव : हिंसा की घटनाओं के बीच मतदान जारी

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में आज सुबह नौ बजे तक 11 फीसदी मतदान हुआ। राज्य के कई हस्सिों में हिंसा की घटनाओं में कई लोग घायल हो गए हैं।
राज्य नर्विाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया दक्षिण दिनाजपुर जिले के तपन इलाके में एक मतदान केंद्र के बाहर बम फेंका गया, जिसमें एक व्यक्ति की मौत और तीन अन्य के घायल होने की खबर है। पुलिस ने अभी तक व्यक्ति की मौत की पुष्टि नहीं की है। अधिकारी ने कहा, हमें एक रिपोर्ट मिली है कि चार लोग घायल हो गए। उनमें से एक की मौत हो गई है। हालांकि जिला पुलिस अधीक्षक ने अभी तक मौत की पुष्टि नहीं की है। अधिकारी ने बताया कि सुबह नौ बजे तक 11.93 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि मतदान शुरू होने के तीन घंटे से भी कम समय में राज्य नर्विाचन आयोग को कई जिलों से हिंसा की शिकायतें मिलने लगी। आयोग ने पुलिस को कार्रवाई करने के लिए कहा है। उन्होंने बताया कि उत्तर 24 परगना, बर्द्धवान, कूचबिहार और दक्षिण 24 परगना जिलों से हिंसा की रिपोर्टें मिली हैं। कूचबिहार जिले में उत्तर बंगाल विकास मंत्री रबींद्रनाथ घोष ने एक मतदान केंद्र के बाहर एक व्यक्ति को कथित तौर पर चांटा मारा। आयोग ने कहा कि उसे शिकायत मिली है और अधिकारियों से कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। टेलीविजन चैनलों ने दिखाया कि मंत्री ने व्यक्ति को कथित तौर पर थप्पड़ मारा। हालांकि घोष ने दावा किया कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया।


उत्तर 24 परगना में भाजपा ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर जिले के कई हस्सिों खासतौर से अमदंगा इलाके में भय का माहौल पैदा करने का आरोप लगाया। आयोग के सूत्रों ने बताया कि अम्दांगा में दो समूहों के बीच हुई झड़पों में कुछ लोग घायल हो गए। वरिष्ठ मंत्री ज्योतप्रिया मलिक ने कहा कि घटना में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता शामिल नहीं है और उन्होंने भाजपा पर मतदाताओं को डराने का आरोप लगाया। बर्द्धवान जिले में विपक्षी दल माकपा और भाजपा ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस मतदाताओं को डरा रही है और मतदान केंद्रों के बाहर बम फेंक रही है। तृणमूल कांग्रेस ने इन आरोपों को निराधार बताया है।

Share it
Top