विप्रो ने 2000 कर्मचारियों को मूल्यांकन के बाद निकाला !

विप्रो ने 2000 कर्मचारियों को मूल्यांकन के बाद निकाला !विप्रो।

नई दिल्ली (भाषा)। देश की तीसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा कंपनी विप्रो ने कर्मचारियों के कामकाज की वार्षिक समीक्षा के बाद अपने सैकड़ों कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है। सूत्रों के अनुसार विप्रो ने करीब 600 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया है। कुछ चर्चाओं में यह संख्या 2,000 तक बताई जा रही है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

दिसंबर 2016 के अंत तक कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 1.76 लाख से अधिक थी। संपर्क करने पर विप्रो ने कहा कि अपने कारोबार लक्ष्यों का अपने कार्यबल के साथ समायोजन करने के लिए वह नियमित आधार पर कर्मचारियों के कामकाज का मूल्यांकन करती रहती है। यह कंपनी की रणनीति प्राथमिकताओं और ग्राहक की जरुरत के अनुसार किया जाता है। इस मूल्यांकन के बाद कुछ कर्मचारियों को नौकरी छोड़नी पडती है जिनकी संख्या हर साल बदलती रहती है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top