Top

वीडियो : जवान को थप्पड़ मारने वाली महिला ने कहा- पैर पकड़कर माफी मांगने के लिए तैयार हूं

वीडियो : जवान को थप्पड़ मारने वाली महिला ने कहा- पैर पकड़कर माफी मांगने के लिए तैयार हूंथप्पड़ मारने वाली और माफी मांगने वाली फोटो।

नई दिल्ली। बीते दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुए एक वीडियो में फौजी को थप्पड़ मारने वाली महिला ने जमानत मिलने के बाद माफी मांग ली है। गुरुग्राम में रहने वाली आरोपी महिला स्मृति कालरा ने कहा कि उसने गलतफहमी की वजह से ऐसा किया था, लेकिन उसे अपने किए पछतावा है और वह जवान से माफी मांगती हैं। इतना ही नहीं महिला ने यहां तक कहा कि वह उसके पैर पकड़कर भी माफी मांगने के लिए तैयार हैं।

बता दें कुछ दिन पहले दक्षिणी दिल्ली के रजोकरी फ्लाई ओवर के पास महिला ने बीच रास्ते में उतर कर सेना के जवान को थप्पड़ मार दिया था, जो उसके पीछे आर्मी ट्रक पर सवार थे। महिला ने जवान को अपशब्द भी कहे थे। इस घटना के पीछे महिला का तर्क था कि कुछ लोग उसका पीछा करते हुए उसे छेड़ रहे थे और उसे लगा कि वो फौजी उन्हीं में से एक था। इसलिए उसने गाड़ी से उतरकर जवान को थप्पड़ मारा।

ये भी पढ़ें- फौजी को बीच सड़क पर थप्पड़ मारने वाली महिला गिरफ्तार, गाड़ी भी हुई सीज

वहीं जवान ने बताया था कि उका ट्रक धीरे-धीरे चल रहा था। तभी अचानक उनके आगे चल रही कार अचानक टेढ़े-मेढ़े तरीके से चलने लगी। इस वजह से उन्हें ट्रक चलाने में दिक्कत हो रही थी। तभी कार में बैठी महिला यानि स्मृति कालरा ने अचानक ब्रेक लगा दिया। ऐसे में ट्रक, गाड़ी से बमुश्किल 1-2 मीटर की दूरी पर रुका। इतने में गाड़ी से महिला उतरी और उन्हें गालियां देने लगी। ड्राइवर के ट्रक से उतरने पर उसके साथ गलत व्यवहार किया। बवाल बढ़ता देख जब जेसीओ महावीर सिंह ट्रक से उतरे तो महिला ने उन्हें थप्पड़ मार दिया। हांलाकि इसके बावजूद जवानों ने शालीनता बरती और महिला को जाने दिया।

सड़क पर जा रही एक दूसरी कार में सवार कुछ लोगों ने इस पूरी घटना का वीडियो मोबाइल में रिकॉर्ड कर लिया. इसके बाद ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। मामला पुलिस के संज्ञान में आते ही पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया और उसकी इंडिका गाड़ी भी सीज कर दी। फिलहाल महिला जमानत पर रिहा है और अब उसने जवान से माफी मांगी है।

ये भी पढ़ें- एक शहीद जवान की बीवी की फेसबुक पोस्ट - आज भी आपके कपड़ों में आपकी महक आती है...

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.