‘दिल्ली में भीड़ की समस्या दूर करने के लिये 31,930 करोड़ रुपये की परियोजना पर काम जारी’

‘दिल्ली में भीड़  की समस्या दूर करने के लिये 31,930 करोड़ रुपये की परियोजना पर काम जारी’केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी

नई दिल्ली (भाषा)। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी में भीड़-भार को काम करने के लिये 31,930 करोड़ रुपये की बड़ी परियोजनाएं तैयार की गयी हैं। इसमें द्वारका एक्सप्रेसवे के विकास के लिये 6,000 करोड़ रुपये की परियोजना शामिल है।

गडकरी ने कहा कि मोदी सरकार का दृष्टिकोण राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में बिना किसी रुकावट के यातायात व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ वाहन प्रदूषण में कमी लाना है। ये परियोजनाएं उसी के अनुरुप है। इनमें से कुछ पर तेजी से काम जारी है।

उन्होंने कहा, ''हमने दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में भीड़-भार तथा बड़ी समस्या बन चुके वाहन प्रदूषण में कमी लाने के लिये 31,930 करोड़ रुपये मूल्य की परियोजनाओं पर काम शुरु किया है।'' मंत्री ने कहा कि 12,000 करोड़ रुपये की ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे तथा 6,000 करोड़ रुपये की लागत वाले दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर काम तेजी से हो रहा है तथा 6,000 करोड़ रुपये की लागत वाले द्वारक एक्सप्रेसवे के विकास के लिये बोली आमंत्रित किये गये हैं।

ये भी पढ़ें- अप्रैल से बदल जाएगी राज्यसभा की तस्वीर, 55 सदस्यों का होगा कार्यकाल पूरा 

गडकरी ने कहा, ''धौला कुआं-हवाईअड्डा गलियारा से भीड़ को कम करने के लिये काम पहले ही आबंटित किये जा चुके हैं। इस पर 260 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसके अलावा दिल्ली के लिये 5,000 करोड़ रुपये की लागत से रिंग रोड की नई परियोजना (यूईआर) पर विस्तृत परियोजना पर काम जारी है।''

ये भी पढ़ें- इतनी आत्महत्या किसानों ने कभी नहीं की जितनी BJP सरकार में की : अखिलेश यादव

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने एक उच्च स्तरीय बैठक में गडकरी ने अधिकारियों से अरबन एक्सटेंशन रोड (यूईआर) परियोजना के काम में तेजी लाने को कहा। बैठक में यह भी फैसला किया गया कि यूईआर दो के अंतर्गत पहले चरण में अतिरिक्त लागत का वहन 50:50 के अनुपात एनएचएआई ओर डीडीए करेगा। बैठक में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल भी शामिल थे।

दिल्ली के लिये मास्टर प्लान के तहत यूईआर दो का प्रस्ताव किया गया है जो राष्ट्रीय राजमार्ग 1, 10 और 8 को जोड़ेगा। इस सड़क से रिंग रोड और आउटर रिंग रोड पर भीड़ में कमी आएगी।

ये भी पढ़ें- किसानों का हर दर्द दूर किया जायेगा : योगी आदित्यनाथ 

Share it
Share it
Share it
Top