धान का समर्थन मूल्य 60 रुपए प्रति कुंतल बढ़ाने की सिफारिश

धान का समर्थन मूल्य 60 रुपए प्रति कुंतल बढ़ाने की सिफारिशगाँव कनेक्शन

नई दिल्ली। कृषि लागत एवं मूल्य आयोग (सीएसीपी) ने 2016-17 खरीफ सीजन के लिए धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 60 रुपए बढ़ाकर 1470 रुपए प्रति क्विंटल करने की सिफारिश की है। इसके साथ ही आयोग ने दालों का न्यूनतम समर्थन मूल्य 200 रुपए बढ़ाने का सुझाव दिया है।

सरकार ने 2015-16 खरीफ गर्मी सीजन के लिए धान की सामान्य किस्म का न्यूनतम समर्थन मूल्य रुपए व ए ग्रेड किस्म के धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1450 रुपए प्रति क्विंटल तय किया था।

उल्लेखनीय है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य ही वह दर है जिस पर सरकार किसानों से अनाज खरीदती है। खरीफ फसलों की बुवाई जून में मानसून की

शुरुआत के साथ ही शुरू होगी। इस सीजन की मुख्य फसल धान है। आयोग ने कृषि मंत्रालय को 2016-17 की खरीफ फसलों के लिए सौंपी अपनी रपट में धान, मोटे अनाज, दाल, तिलहन व कपास सहित 14 फसलों के लिए सिफारिशें की हैं।

सूत्रों ने बताया कि आयोग ने 2016-17 के लिए धान की सामान्य किस्म का न्यूनतम समर्थन मूल्य 60 रुपए बढ़ाकर 1470 रुपए व ग्रेड ए श्रेणी की किस्म का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1510 रुपए तय करने की सिफारिश की है। उन्होंने कहा कि सरकारी गोदामों में अधिक भंडार को ध्यान में रखते हुए धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य में मामूली वृद्धि का प्रस्ताव किया गया है।

सूत्रों के अनुसार आयोग ने तूर दाल का न्यूनतम समर्थन मूल्य 200 रुपए बढ़ाकर 4,625 रुपए प्रति क्विंटल करने का सुझाव दिया है। घरेलू उत्पादन में कमी के कारण दालों की बढ़ती कीमतों के मद्देनजर यह सिफारिश की गई है।

आयोग ने मूंग व उडद दाल के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 150-150 रुपए की वृद्धि कर इसे क्रमश: 4800 रुपए तथा 4575 रुपए प्रति क्विंटल करने की सिफारिश की है। 

मंत्रालय इस बारे में राज्य सरकारों की राय जानने के बाद एक कैबिनेट नोट तैयार करेगा। आमतौर पर आयोग की सिफारिशें स्वीकार कर ली जाती हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top