दिमागी बुखार से बच्चों को मरने नहीं दूंगा: मोदी

दिमागी बुखार से बच्चों को मरने नहीं दूंगा: मोदीgaonconnection

गोरखपुर। प्रधानमंत्री ने गोरखपुर में एम्स की आधारशिला रखते हुए कहा कि अब एम्स में दिमागी बुखार (इंसेफ्लाइटिस) का बेहतर इलाज़ हो सकेगा। किसी बच्चे को अब मरने नहीं दिया जाएगा। 

मोदी ने कहा कि अभी यहां के लोगों को दिल्ली जाना पड़ता है लेकिन अब 700 बेड के इस अस्पताल से लोगों को सुविधाएं मिलेंगी, जिसमें करीब एक हजार करोड़ रुपए की लागत आएगी। उन्होंने कहा कि इसेफ्लाइटि‍स से बहुत से बच्‍चे दि‍व्‍यांग हो गए लेकिन अब बच्‍चों को मरने नहीं दि‍या जाएगा। एम्‍स के डॉक्‍टर दि‍मागी बुखार और यहां की बीमारि‍यों से मुक्‍ति‍ दि‍लाने में सहायक होंगे।

उन्होंने कहा कि बीमारी से बचाव के लिए बड़े पैमाने पर इंद्रधनुष योजना के तहत टीकाकरण किया गया है। इसके लि‍ए केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी नड्डा और राज्‍यमंत्री अनुप्रि‍या पटेल को इसका क्रेडि‍ट दि‍या। उन्होंने कहा कि आरोग्‍य के क्षेत्र में यूपी के लि‍ए भारत सरकार ने 7000 करोड़ रुपया बजट में आवंटि‍त कि‍या है। जैसे-जैसे वि‍कास का काम होगा, वैसे-वैसे पैसा मि‍लेगा। यूपी सरकार इसे नहीं ले पाई है, क्‍योंकि‍ काम नहीं कर पाई।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.